दिग्गजों की डुगडुगी: हिरानी के साथ शाहरुख, संतोषी के सितारे, जैकलीन की जरूरत

बॉलीवुड में आने वाला हर फनकार आखिरकार निर्माता बनना चाहता है और सफल होने पर यह काम करता भी है।

(बाएं) शाहरुखा खान, राज कुमार संतोषी, जैकलीन फर्नांडीज।

हिरानी के साथ शाहरुख

बॉलीवुड में आने वाला हर फनकार आखिरकार निर्माता बनना चाहता है और सफल होने पर यह काम करता भी है। इसलिए जो राजकुमार हिरानी विधु विनोद चोपड़ा की ‘मिशन कश्मीर’ के संपादकहुआ करते थे, उनके लिए फिल्में बनाते थे, उन्होंने खुद की कंपनी खोल ली। हिरानी आजकल शाहरुख खान को लेकर फिल्म बना रहे हैं। कहा जाता है कि जब शाहरुख खान फिल्मों में प्रवेश करने जा रहे थे तब विधु विनोद चोपड़ा ने उन्हें खूब इंतजार करवाया था। इसलिए विधु को छोड़ने वाले हिरानी ने जब शाहरुख खान से संपर्क किया तो खान ने तुरंत इस मौके को लपक लिया। कुछ इसी तरह का वाकया तब भी हुआ था जब सनी देओल को ‘घायल’ और ‘दामिनी’ जैसी फिल्मों से राष्ट्रीय पुरस्कार दिलाने वाले राजकुमार संतोषी के सनी से मतभेद हुए थे। तब संतोषी को तुरंत बोनी कपूर ने अपनी फिल्म बनाने के लिए तैयार कर लिया था। संतोषी ने फिर बोनी कपूर के लिए ‘पुकार’ बनाई थी और अनिल कपूर को इस फिल्म के लिए पहला राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था।

संतोषी के सितारे

राज कुमार संतोषी की कभी बॉलीवुड में बड़ी प्रतिष्ठा थी। माना जाता था कि वह जिस स्टार पर हाथ रख देते थे, उसकी शोहरत में चार चांद लग जाते थे। ‘अर्धसत्य’ में गोविंद निहलानी के सहायक रहे संतोषी ने अपनी पहली ही फिल्म ‘घायल’ में सनी देओल को राष्ट्रीय पुरस्कार दिलवाया। उनकी ‘पुकार’ के लिए अनिल कपूर को राष्ट्रीय पुरस्कार मिला। ‘घायल’, ‘घातक’, ‘अंदाज अपना अपना’, ‘खाकी’, ‘चाइना गेट’, ‘पुकार’ जैसी फिल्मों के दम पर बॉलीवुड में संतोषी का दबदबा था। सनी देओल से मतभेद के बावजूद संतोषी ने ‘द लीजेंड आॅफ भगत सिंह’, ‘हल्ला बोल’, ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ जैसी फिल्में बनाई। मगर संतोषी के बाद टिप्स कंपनी के साथ उनके मतभेद हुए और अंत में 2013 में ‘फटा पोस्टर निकला हीरो’ के बाद संतोषी के सितारे गर्दिश में चले गए। फिल्म इंडस्ट्री के नामी गिरामी कलाकार जो उनके साथ काम करने के लिए मरे जाते थे, संतोषी के लिए उपलब्ध नहीं थे। नामी निर्माताओं ने उनके साथ कन्नी काटनी शुरू कर दी। देखते ही देखते प्रतिभाशाली निर्देशक संतोषी हाशिए पर धकेल दिए गए। नमाषि चक्रवर्ती और अमरिन कुरैशी जैसे नए कलाकारों को लेकर बनी उनकी फिल्म ‘बैड बॉय’ रिलीज भी हुई है या नहीं, पता नहीं। फिलहाल टिप्स कंपनी के लिए संतोषी ‘एक और गजब कहानी’ बना रहे हैं, जिसमें अमृता कपूर और अर्जुन रामपाल की प्रमुख भूमिका है। देखते ही देखते अच्छे भले मशहूर निर्देशक का इस तरह से हाशिए पर चले जाना आश्चर्य पैदा करता है। आज उनके साथ सनी देओल और अनिल कपूर नहीं हैं, जिनको पहली बार राज कुमार संतोषी की फिल्म के जरिए राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था। इसीलिए कहा जाता है कि बॉलीवुड में न दोस्ती स्थाई होती है, न दुश्मनी।

जैकलीन की जरूरत

जैकलीन फर्नांडीज और नोरा फतेही इस समय बॉलीवुड के उन निर्माताओं की जरूरत बन गर्इं हैं, जिन्हें अपनी फिल्म में आइटम सांग रखना है। मलाइका अरोड़ा इस मामले में हाशिए पर आ रही हैं। जैकलीन फर्नांडीज से सलमान अपनी ‘राधे’ में आइटम डांस ‘दिल दे दिया करवा’ लेते हैं। साजिद नाडियावाला को ‘बागी 2’ में आइटम डांस की जरूरत पड़ती है तो वे भी जैकलीन को याद करते हैं और उनसे ‘एक दो तीन…’ आइटम सांग करवा लेते हैं। नाडियाडवाला जैकलीन से ही ‘हाउसफुल’ में ‘आपका क्या होगा…’ आइटम सांग करवाते हैं। इन दिनों भी जैकलीन एक साथ ‘राम सेतु’, ‘सर्कस’, ‘अटैक’ जैसी फिल्मों की शूटिंग कर रही हैं और अक्षय कुमार के साथ उनकी ‘बच्चन पांडे’ रिलीज के लिए तैयार है।