दिग्गजों की डुगडुगी

इधर हल्ला मचा हुआ है कि सलमान खान नंबर वन हैं या अक्षय कुमार। लोग फिल्मी धरमकांटे पर बिठा कर दोनों को तौल रहे हैं।

Bollywood

‘किंग’ शाहरुख खान

मीडिया के पंडित जोड़-घटाकर बता रहे हैं कि आजकल अक्षय कुमार जनता के चहेते हैं और शाहरुख खान की कुरसी खतरे में हैं। इससे पहले कि ताज उठाए घूम रहे लोग अक्षय कुमार की ताजपोशी करें, सलमान खान ने कह दिया कि बॉलीवुड के ‘किंग’ तो शाहरुख खान हैं। पंडित लोग कुनैनी मुंह बना कर बता रहे हैं कि भैया किंग खान की पिछली फिल्म ‘जीरो’ 200 करोड़ में बनी थी और बॉक्स आॅफिस पर टें बोल गई, तो शाहरुख कैसे किंग हुए? इस फिल्म इंडस्ट्री में तो किसी की भी साख को उसकी पिछली फिल्म की बॉक्स आॅफिस रिपोर्ट से देखा जाता है।

फिर कल तक तो सलमान खान और शाहरुख खान में कौन नंबर वन है, यह सवाल खड़ा था। आज तो सवाल ही बदल गया। दोनों खानों को प्रतिस्पर्धा में खड़े करने वालों को तो सलमान द्वारा शाहरुख की तारीफों के बाद चक्कर आ रहे हैं। अब उन्हें कौन समझाए कि शाहरुख ने सलमान की ‘ट्यूबलाइट’ में और सलमान ने शाहरुख की ‘जीरो’ में अतिथि भूमिका की है।

सलमान ने तो अपनी फिल्म ‘राधे’ के वीएफएक्स शाहरुख खान की कंपनी रेड चिलीज में करवाए हैं और धंधे के साथ दोस्ती को और गाढ़ा बनाते हुए शाहरुख खान की फिल्म ‘पठान’ में अतिथि भूमिका करना तय कर फिल्म का वजन भी बढ़ा दिया है। फिल्मी विद्वान लड़ाते रहें दोनों को अपनी कलम से, शाहरुख-सलमान तो एक दूसरे की बलैयां ले रहे हैं।


आमिर का बेटा

लो जी कल तक श्रीदेवी की छोटी बेटी के फिल्मों में आने और उनके पति बोनी कपूर के 65 साल की उम्र में एक्टिंग में पदापर्ण करने की खबरें थी। अब आमिर खान के बेटे के कैमरे के सामने आकर शूटिंग करने की खबरें हैं। इसमें नया क्या है? कल को शाहरुख खान के बेटे-बेटी भी आएंगे। सलमान खान इस चक्कर से अभी तक दूर हैं, मगर लोग चाहते हैं कि वे भी इस चक्कर में फंस जाएं।

आमिर खान के बेटे जुनैद ने बीते दिनों ‘महाराजा’ नामक फिल्म के लिए कैमरे का सामना किया। हालांकि पिता आमिर ने उन्हें कैमरे के पीछे खड़ा किया था राजकुमार हिरानी की ‘पी के’ (2014) में उनका असिस्टेंट बनवाकर। सो एक पंचवर्षीय योजना पूरी करने के बाद कैमरे से पीछे से जुनैद आगे आ गए। यश चोपड़ा की कंपनी ने सिद्धार्थ मल्होत्रा के निर्देशन में बन रही ‘महाराजा’ से उन्हें फिल्मों में उतारा है।

‘महाराजा’ 1862 के एक वाकये पर बनी फिल्म है जिसमें एक गुजराती पत्रकार करसनदास मू्लजी ने अपने अखबार ‘सत्यप्रकाश’ में पुष्टिमार्गीय महाराज जदुनाथजी ब्रजरत्नजी के बारे में एक खबर छापी थी। महाराज के द्वारा महिला भक्तों के यौन शोषण की इस खबर छपने के बाद खूब हंगामा हुआ था और मामला अदालत में गया था, जिसमें करसनदास की जीत हुई थी। इस अदालती मामले की खूब चर्चा हुई। जुनैद फिल्म में गुजराती पत्रकार करसनदास की भूमिका निभा रहे हैं।

सक्रिय हुए सूरज

लगता है कोरोना महामारी के बाद फिल्मवालों ने अपने बेटे बेटियों को फिल्मों में उतारने की तैयारी कर रखी थी। ‘मैंने प्यार किया’, ‘हम आपके हैं कौन’, ‘हम साथ साथ हैं’ जैसी फिल्में बनाने वाले सूरज बड़जात्या भी इस साल अपने बेटे अनवीश को फिल्मों में उतार सकते हैं। पांच सालों से सूरज ने कोई फिल्म नहीं बनाई है।

हालांकि उनके निर्देशन में बनने वाली फिल्मों में पांच-सात सालों का गैप रहता ही है। बीते दिनों खबर थी कि सूरज अमिताभ बच्चन और बोमन ईरानी को लेकर एक फिल्म बनाने जा रहे हैं। खबर यह भी थी कि सूरज सलमान को लेकर भी एक फिल्म बनाएंगे। सूरज एक साथ तीन फिल्मों पर काम करेंगे, यह संभव नहीं है। माना जा रहा है कि सूरज इस साल बेटे अवनीश की फिल्म शुरू कर सकते हैं।