दिल्ली में फ्री बिजली कैसे मिलेगी? सब्सिडी के लिए क्या जरूरी? 7 सवालों के जवाब

दिल्ली वालों को बिजली बिल पर अब सब्सिडी तभी मिलेगी, जब वो इसके लिए अप्लाई करेंगे. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज इसका ऐलान किया. उन्होंने बताया कि कुछ लोग बिजली बिल पर सब्सिडी छोड़ना चाहते हैं, इसलिए अब सिर्फ उन्हें ही सब्सिडी मिलेगी, जो इसके लिए आवेदन करेंगे. उन्होंने बताया कि सब्सिडी के लिए आज से ही आवेदन कर सकते हैं.

दिल्ली में 2015 में आम आदमी पार्टी की सरकार आने के बाद बिजली बिल पर छूट दे दी गई थी. तभी से दिल्ली में केजरीवाल सरकार 200 यूनिट तक की बिजली फ्री दे रही थी. लेकिन अक्टूबर 2022 से सबको सब्सिडी नहीं मिलेगी. अब सब्सिडी सिर्फ उन्हें ही मिलेगी, जो इसके लिए आवेदन करेंगे.

अब तक सब्सिडी छोड़ने का कोई ऑप्शन नहीं था. यानी, आप चाहें या न चाहें, सब्सिडी मिलती ही थी. लेकिन अब सब्सिडी लेने और नहीं लेने का ऑप्शन रहेगा. 

दिल्ली में 58 लाख बिजली उपभोक्ता हैं. इनमें से 47 लाख परिवारों को बिजली बिल पर सब्सिडी मिलती है. 30 लाख परिवारों की बिजली फ्री मिलती है, जबकि 17 लाख परिवारों का बिजली बिल आधा आता है.

1. सब्सिडी लेने का तरीका क्या है?

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि अगले बिजली बिल के साथ एक फॉर्म आएगा. इस फॉर्म को भरना होगा और बताना होगा कि सब्सिडी चाहते हैं या नहीं.

फॉर्म भरने के बाद इसे कनेक्शन सेंटर में जमा कराना होगा. यानी, जहां बिजली बिल जमा होता है, वहां पर. इससे 1 अक्टूबर के बाद भी सब्सिडी जारी रहेगी. 

2. ऑनलाइन फॉर्म नहीं है क्या?

घर बैठे-बैठे भी सब्सिडी का फॉर्म भरा जा सकता है. इसके लिए आपको 7011311111 पर मिस कॉल देना होगा. इसपर वॉट्सऐप पर Hi लिखकर भी मैसेज किया जा सकता है. इसके बाद एक मेसेज आएग.

इसमें लिखा होगा, ‘Welcome to Delhi Government Power Subsidy portal. To avail Delhi power subsidy, please proceed.‘ इसके बाद कृपया आगे बढ़ने के लिए भाषा चुनें लिखा आएगा.

फिर सुविधा के मुताबिक, हिंदी या इंग्लिश चुन लें. फिर आगे आपसे CA नंबर (बिल पर लिखा होता है) मांगा जाएगा. वह डालने के बाद डिटेल कंफर्म कर लें. फिर आप सब्सिडी के लिए रजिस्टर्ड हो जाएंगे.

इसके अलावा जिन लोगों ने CA नंबर के साथ अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करवाया है, उन्हें खुद से ही सब्सिडी के लिए मैसेज भेजा जाएगा.

3. पता कैसे चलेगा कि रजिस्टर हो गए?

केजरीवाल ने बताया कि आप या तो खुद जाकर फॉर्म जमा करते हैं या फिर वॉट्सऐप के जरिए फॉर्म भरते हैं, तो 3 दिन के अंदर कन्फर्मेशन मैसेज या मेल आ जाएगा.

आजतक ने इसका डेमो करके देखा. वॉट्सऐप पर फॉर्म जमा करने के बाद एक मैसेज आता है, जिसमें कन्फर्मेंशन रहता है कि आपका फॉर्म जमा हो गया.

इस मैसेज में लिखा होगा, ‘धन्यवाद. सब्सिडी के लिए आपका फॉर्म स्वीकार कर लिया गया है. दिल्ली सरकार पूरा ध्यान रखेगी कि आपका बिजली सब्सिडी समय से आपको प्राप्त हो.

इस मैसेज में मोबाइल नंबर, बिजली बिल के CA नंबर के साथ लिखा होता है कि सब्सिडी के लिए आपका आवेदन जमा हो चुका है.

4. कब तक जमा कर सकते हैं फॉर्म?

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि फॉर्म आज से भी भरे जा सकते हैं. फॉर्म भरने की आखिरी तारीख 31 अक्टूबर है. 

जिन लोगों के फॉर्म 31 अक्टूबर तक जमा हो जाएंगे, उनकी सब्सिडी जारी रहेगी. उन्हें 1 अक्टूबर से 31 अक्टूबर के बिल पर भी सब्सिडी मिलेगी.

5. फॉर्म 31 अक्टूबर तक जमा नहीं किया तो?

अगर आप 31 अक्टूबर तक फॉर्म जमा नहीं कर पाते हैं, तो सब्सिडी का फायदा नहीं मिलेगा. अगर आप 1 नवंबर या उसके बाद फॉर्म जमा करते हैं तो उसी महीने के बिल पर सब्सिडी मिलेगी.

मान लीजिए कि आपने 1 नवंबर या उसके बाद फॉर्म भरा. तो आपको 1 नवंबर से सब्सिडी मिलनी शुरू होगा. अक्टूबर का पूरा बिल आपको भरना होगा.

6. क्या आय का ब्यौरा भी देना होगा?

नहीं. आपको फॉर्म में सिर्फ इतना बताना होगा कि सब्सिडी चाहिए या नहीं. इसके लिए हां या न में जवाब देना होगा. 

7. कब तक मिलेगी सब्सिडी?

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि साल में एक बार सब्सिडी विदड्रॉ करने का मौका मिलेगा. यानी, इस साल आपने सब्सिडी के लिए फॉर्म भर दिया तो अगले साल फिर सब्सिडी का फॉर्म भरना होगा.