दिल्ली से लखनऊ की फ्लाइट में प्रियंका गांधी वाड्रा और MLC दिनेश प्रताप सिंह के बीच कहासुनी, फेसबुक पर सुनाया वाकया

बीजेपी नेता दिनेश प्रताप सिंह ने अपने फेसबुक पोस्ट में बताया कि उनकी प्रियंका गांधी से फ्लाइट में कहासुनी हो गई थी। क्योंकि वह प्रियंका की सीट पर बैठ गए थे।

Priyanka Gandhi, Rahul Gandhi, Sonia Gandhi कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (Photo- Indian Express)

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर-खीरी में किसानों की मौत के बाद सियासत गरमा गई है। विपक्षी दल राज्य की योगी सरकार पर हमलावर हैं। तमाम विपक्षी नेताओं ने लखीमपुर जाने की घोषणा की थी, जिसमें कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल थीं। वो लखीमपुर के लिए रवाना भी हो गई थीं, लेकिन रास्ते में पुलिस ने उन्हें रोक लिया और बाद में हिरासत में ले लिया। इस दौरान उनकी अधिकारियों से बहस भी हुई।

इसी बीच, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और रायबरेली से एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने फेसबुक पर प्रियंका गांधी को लेकर एक पोस्ट साझा किया है। इस पोस्ट में उन्होंने दावा किया है कि दिल्ली से लखनऊ की फ्लाइट में उनका प्रियंका से आमना-सामना हुआ। इस दौरान दोनों में जुबानी जंग भी हुई। दिनेश प्रताप सिंह लिखते हैं, ‘रविवार को दिल्ली के टर्मिनल 2 से लखनऊ जाने वाली इंडिगो फ्लाइट से यात्रा कर रहा था। मेरी सीट 19-सी थी, लेकिन 19-बी पर बैठे बुजुर्ग का स्वास्थ्य ठीक नहीं लग रहा था।’

दिनेश प्रताप सिंह आगे लिखते हैं, ‘थोड़ी देर में लगा कि बोर्डिंग पूरी हो गई है और अब कोई यात्री नहीं आएगा। उसी पंक्ति की 19 डी, ई और एफ तीनों सीटें खाली थीं। मैं बीमार बुजुर्ग को राहत देने के उद्देश्य से 19 डी पर बैठ गया और फोन पर आए जन्मदिन की शुभकामनाओं वाले संदेश पढ़ने लगा। थोड़ी देर में सीट के पास प्रियंका वाड्रा जी आकर खड़ी हो गईं और बोलीं कि ये सीट मेरी है। मैंने उनकी तरफ देखा तो प्रणाम किया और बगल की अपनी सीट पर जाने लगा।’

प्रियंका ने दिया तीखा जवाब: बकौल दिनेश प्रताप सिंह, ‘इतने में प्रियंका जी ने बड़े गुस्से में मेरे अभिवादन का बिना जवाब देते हुए कहा- आप इतनी जल्दी हमारी सीट नहीं ले पाओगे। मैंने जवाब दिया- आपकी सीट खतरे में तो है, यही क्या कम है? मैं अपनी सीट पर जाकर बैठ गया। इतने में एक जहाज की परिचारिका आईं और हमारे बगल में बैठे बुजुर्ग को सहारा देकर आगे की खाली लाइन में बैठा दिया। इससे मुझे लगा कि मैंने कोई गलती नहीं की थी।’ जबकि इंडिगो एयरलाइंस ने ऐसी कोई सूचना मिलने से इंकार कर दिया है।

बता दें, दिनेश प्रताप सिंह कभी कांग्रेस का हिस्सा थे। हालांकि बाद में वे बीजेपी में आ गए। साल 2019 में रायबरेली से लोकसभा चुनाव भी लड़ा था। इस सीट से उन्होंने कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी को चुनौती दी थी। लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। सोनिया गांधी को 5 लाख 34 हजार 918 मतों से जीत हासिल हुई थी। जबकि दिनेश प्रताप सिंह को 3 लाख 67 हजार 740 वोट मिले थे।