दिल में रहो, लेकिन सिर पर मत चढ़ो- बच्चों से कहती हैं नीतू कपूर, अकेले रहना करती हैं अधिक पसंद; इंटरव्यू में बताई वजह

नीतू कपूर अपने पति के निधन के बाद से ही बच्चों से दूर अकेले रह रही हैं। इस बात का खुलासा एक्ट्रेस ने इंटरव्यू में किया था। इस दौरान एक्ट्रेस ने कहा कि मैं चाहती हूं कि बच्चे अपनी जिंदगी में व्यस्त रहें।

neetu kapoor, ranbit kapoor

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस नीतू कपूर, ऋषि कपूर के निधन के बाद जिंदगी में धीरे-धीरे आगे बढ़ने की कोशिश कर रही हैं। एक्टर के निधन के बाद वह पहली बार फिल्म ‘जुग-जुग जियो’ की शूटिंग के लिए बाहर निकली थीं। इस बात को लेकर उन्होंने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट पर पोस्ट भी साझा की थी। लेकिन पति के निधन के बाद से ही नीतू कपूर अपने बच्चों से दूर अकेले रह रही हैं और ऐसा करते हुए उन्हें करीब एक साल हो चुके हैं। वह न तो अपने बेटे रणबीर कपूर के साथ रहती हैं और न ही बेटी रिद्धिमा कपूर के साथ रहना पसंद करती हैं। इस बात का खुलासा एक्ट्रेस ने अपने इंटरव्यू में किया था।

दिल में रहें, लेकिन मेरे सिर पर न चढ़ें: नीतू कपूर ने फिल्मफेयर को दिए अपने इंटरव्यू में कहा था कि वह चाहती हैं कि रणबीर कपूर और बेटी रिद्धिमा अपनी-अपनी जिंदगी में सेटल हो जाएं। उन्होंने कहा, “मैंने उनसे कहा है कि मेरे दिल में रहें, लेकिन मेरे सिर पर न चढ़ें। मैं उन्हें उनकी जिंदगी में ही व्यस्त रहने देना चाहती हूं।”

नीतू कपूर ने इस बारे में बात करते हुए आगे कहा, “जब महामारी के दौरान रिद्धिमा मेरे साथ थी तो मैं काफी परेशान हो गई थी, क्योंकि वह वापस नहीं जा पाई थी। मैं उस वक्त बहुत ही बेचैन हो गई थी। मैं हमेशा उससे कहती थी कि तुम वापस जाओ, क्योंकि भरत अकेले हैं। मैं हमेशा रिद्धिमा को दूर करने की कोशिश करती थी।”

प्राइवेसी है पसंद: नीतू कपूर ने इंटरव्यू में बताया कि उन्हें अपनी प्राइवेसी पसंद है और वह इस तरह से ही जिंदगी जीने की आदी भी हो चुकी हैं। नीतू कपूर ने इसके अलावा इंटरव्यू में बताया कि जब उनकी बेटी रिद्धिमा कपूर साहनी पढ़ाई करने के लिए लंदन गई थीं तो उनका खुद को संभालना काफी मुश्किल हो गया था।

नीतू कपूर ने कहा, “मुझे याद है कि जब रिद्धिमा पढ़ाई के लिए लंदन जा रही थी तो मुझे काफी दिनों तक बहुत ही परेशानी हुई थी। अगर कोई उससे मिलने आता था या उसे गुडबाय कहता था तो भी मैं रोना शुरू कर देती थी। लेकिन जब रणबीर जाने लगा तो मेरे साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। ये देख रणबीर ने मुझसे कह दिया था कि मां आप मुझसे प्यार नहीं करती हैं। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं था।”

बच्चों से दूर रहने की हो गई है आदत: नीतू कपूर ने बच्चों से दूर रहने के बारे में बात करते हुए कहा, “दरअसल, मुझे अपने बच्चों से दूर रहने की आदत हो गई थी, इसलिए जब यह चीज दोहराई गई तो मुझे ज्यादा फर्क नहीं पड़ा। मुझे लगता है कि जब वे लोग विदेश में थे तो इस बात ने मुझे और मजबूत बना दिया था और मुझे यह भी महसूस होता था कि मैं अकेले ही काफी ठीक हूं।” एक्ट्रेस ने बताया कि मैं अपने बच्चों से कहती हूं कि मुझे रोजाना मत मिलो, लेकिन मुझसे जुड़े रहो।