दीपावली से पहले भारतीय जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी की मांग में इजाफा, सितंबर में 23,259 करोड़ रुपए का हुआ एक्‍सपोर्ट

जीजेईपीसी के चेयरमैन कोलिन शाह ने कहा कि अप्रैल-सितंबर में 1,40,412.94 करोड़ रुपए या 18.98 अरब डॉलर के निर्यात के साथ रत्न एवं आभूषण क्षेत्र ने सरकार द्वारा क्षेत्र के लिए तय लक्ष्य 41.66 अरब डॉलर का आधा (करीब 46 फीसदी) हासिल कर लिया है।

Gems And jewellery जीजेईपीसी ने शनिवार को जानकारी देते हुए कहा कि रत्न एवं आभूषणों का निर्यात सितंबर, 2021 में 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259.55 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। (Photo Indian Express Archive)

भारत की जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी दुनियाभर मशहूर है। कोविड के दौरान के इसमें थोड़ी गिरावट जरूर देखने को मिली थी, लेकिन अब इसमें सुधार देखने को मिल रहा है। दीपावली से पहले भारतीय जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी की डिमांड में इजाफा देखने को मिल रहा है। सितंबर के महीने में जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी के एक्‍सपोर्ट में करीब 30 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है। इसका मतलब यह है कि सि‍तंबर के महीने में इनका निर्यात 23,259.55 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। आइए आपको भी बताते हैं कि आख‍िर किस तरह के आंकड़े देखनें को मिले हैं।

जेम्‍स एंड ज्‍वेलरी के एक्‍सपोर्ट में इजाफा
रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद यानी जीजेईपीसी ने शनिवार को जानकारी देते हुए कहा कि रत्न एवं आभूषणों का निर्यात सितंबर, 2021 में 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259.55 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। एक साल पहले समान महीने में यह आंकड़ा 17,936.86 करोड़ रुपए रहा था। वहीं सितंबर, 2019 में 23,491.20 करोड़ रुपए के रत्न एवं आभूषणों का निर्यात हुआ था। जीजेईपीसी ने बयान में कहा कि चालू वित्त वर्ष के पहले छह माह अप्रैल-सितंबर में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 134.55 फीसदी बढ़कर 1,40,412.94 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

क्‍या आया है बयान
जीजेईपीसी के चेयरमैन कोलिन शाह ने कहा कि अप्रैल-सितंबर में 1,40,412.94 करोड़ रुपए या 18.98 अरब डॉलर के निर्यात के साथ रत्न एवं आभूषण क्षेत्र ने सरकार द्वारा क्षेत्र के लिए तय लक्ष्य 41.66 अरब डॉलर का आधा (करीब 46 फीसदी) हासिल कर लिया है। बाजारों के खुलने तथा धीरे-धीरे मांग सामान्य होने से उद्योग की धारणा सकारात्मक हो रही है। उन्होंने कहा कि अब त्योहारी सीजन आ रहा है। ऐसे में जीजेईपीसी को वित्त वर्ष के अंत तक निर्यात लक्ष्य को हासिल करने की उम्मीद है।

किसमें हुआ कितना इजाफा
अप्रैल-सितंबर, 2021 में कटे और पॉलिश हीरों (सीपीडी) का निर्यात 122.62 फीसदी बढ़कर 91,489.2 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इससे पिछले साल की समान अवधि में यह 41,095.89 करोड़ रुपए था। इसी तरह सोने के आभूषणों का निर्यात अप्रैल-सितंबर में 262.66 प्रतिशत बढ़कर 8,100.97 करोड़ रुपए से बढ़कर 29,379.36 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इस अवधि में चांदी के आभूषणों का निर्यात 48.25 फीसदी बढ़कर 9,477.39 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले समान अवधि में 6,392.65 करोड़ रुपए था।