दो का पहाड़ा नहीं सुना पाया दूल्हा तो दूल्हन ने लौटा दी बारात, पैसे भी देने पड़े

बारात के आगमन के बाद रस्मों की शुरुआत हो गयी थी। हंसी-ठिठोली और मेहमानों की हंसी खुशी वाले माहौल के बीच दुल्हा जयमाला के लिए स्टेज पर पहुंचा तो दुल्हन ने दुल्हे का टेस्ट लेना शुरू कर दिया।

Uttar Pradesh, wedding, Mahoba

एक तरफ जहां कोरोना के कारण देश में कई लोगों की शादी आगे के लिए टाल दी जा रही है। वहीं उत्तर प्रदेश के महोबा में एक दुल्हे को दुल्हन ने शादी के मंडप से वापस भेज दिया। खबरों के अनुसार पनवाड़ी कस्बे में धूमधाम से बारात लेकर लड़का शादी करने पहुंचा था। लेकिन जयमाला के स्टेज पर दुल्हा से 2 का पहाड़ा पूछा गया जिसे बताने में वो असफल रहा जिसके बाद उसकी शादी टूट गयी।

बारात के आगमन के बाद रस्मों की शुरुआत हो गयी थी। हंसी-ठिठोली और मेहमानों की हंसी खुशी वाले माहौल के बीच दुल्हा जयमाला के लिए स्टेज पर पहुंचा तो दुल्हन ने दुल्हे का टेस्ट लेना शुरू कर दिया। दुल्हन ने स्टेज पर दुल्हे से दो का पहाड़ा पूछा था जिसे वो नहीं बता पाया।टेस्ट में दुल्हा जब फेल हो गया तो दुल्हन ने शादी करने से इनकार दिया। जिससे खुशी का माहौल तनाव में बदल गया।

घंटों आरजू-मिन्नतों के बाद भी दोनों पक्ष में बात नहीं बनी मामला पुलिस स्टेशन तक पहुंच गया। अंतत: बारात को बिना दुल्हन के बैरंग वापस जाना पड़ा। दुल्हन को दुल्हे के हावभाव को देखकर शक हुआ तो दुल्हन ने एक शर्त रख दी कि वह कुछ सवाल करेगी अगर वो जवाब देगा तब ही वरमाला डालेगी।

दुल्हन की बात को पहले तो लोगों ने मजाक समझा लेकिन तब तक दुल्हन ने सवाल करना शुरू कर दिया। दुल्हन ने पूछा कि कितने पढ़े हो? पहले दो का पहाड़ा सुनाओ। इतना सुनते ही लड़का सकपका गया। लोगों की तरफ से समझाने के कई प्रयास हुए लेकिन लड़की शादी के लिए नहीं तैयार हुई।

दुल्हन को मनाने का प्रयास रात भर चलता रहा। लेकिन वो नहीं मानी। जब इसकी सूचना पुलिस को मिली पुलिस की तरफ से भी उसे समझाने का प्रयास किया गया। लेकिन लड़की नहीं मानी अंतत: लड़के वालों को वापस आना पड़ा और दहेज में लिए गए पैसे भी उसे वापस करने पड़े।