दो घंटे लेट हो गई तेजस एक्सप्रेस, यात्रियों को मिलेगा 4 लाख से ज्यादा का मुआवजा

लखनऊ से दिल्ली आने वाली तेजस एक्सप्रेस शनिवार को दो घंटे से ज्यादा लेट हो गई। रविवार को यह देर से लखनऊ पहूंची। अब IRCTC यात्रियों को 4.5 लाख से ज्यादा का मुआवजा देगा।

तेजस एक्सप्रेस की तस्वीर। सोर्स- एक्सप्रेस फोटो By विशाल श्रीवास्तव

द इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिजम कॉर्पोरेशन (IRCTC) ने कहा है कि शनिवार और रविवार को तेजस एक्सप्रेस लेट हो गई थी इसलिए 2035 यात्रियों को लगभग 4.5 लाख मुआवजे की राशि दी जाएगी। बता दें कि शनिवार को भारी बारिश की वजह से सिग्नल फेल हो गया था और ट्रेन दो घंटे की देरी से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुंची थी।

इसके बाद रविवार को भी तेजस एक्सप्रेस लगभग एक घंटा देरी से स्टेशन पर पहुंची थी। दरअसल तेजस एक्सप्रेस के मामले में यह नियम है कि अगर ट्रेन एक घंटा लेट होती है तो प्रति यात्री को 100 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। वहीं अगर ट्रेन दो घंटे या ज्यादा लेट होती है तो 250 रुपये रिफंड किए जाएंगे। अब आईआरसीटीसी को 4,49,600 रुपये का मुआवजा देना है।

इस मामले में IRCTC के चीफ रीजनल मैनेजर ने बताया कि पहली बार है जब एक ही सफर के लिए 1547 यात्रियों को 3,93,500 रुपये का रिटर्न दिया जाएगा। रविवर की यात्रा के लिए 561 यात्रियों को 100-100 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

IRCTC के मुताबिक शनिवार को लखनऊ जंक्शन से ट्रेन सही समय पर चली थी। बाद में सिग्लन फेल हो जाने की वजह से इसे बीच में रोकना पड़ गया। शनिवार को नई दिल्ली स्टेशन पहुंचने में देरी हुई तो वापसी में लखनऊ पहुंचने में भी ट्रेन एक घंटा लेट हो गई।

जल्द शुरू हो सकती है पटना-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस
जानकारी के मुताबिक 1 सितंबर से पटना से नई दिल्ली की तेजस एक्सप्रेस शुरू हो सकती है। हालांकि अभी इस मामले में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है। तेजस एक्सप्रेस पटना राजधानी के समय पर भी शुरू हो सकती है।