नवजोत सिद्धू के सहयोगी ने कैप्टन अमरिंदर को कहा ‘अलीबाबा’, साथियों को बताया ‘चालीस चोर’, पार्टी ने दी चेतावनी

नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार ने कहा है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह अली बाबा की तरह हैं और उनके सहयोगी चालीस चोर हैं। इसके बाद पंजाब कांग्रेस प्रभारी ने अल्टीमेटम दिया है।

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू। फोटो- एक्सप्रेस By नवजोत माल्ही

पंजाब कांग्रेस में कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। शीर्ष नेतृत्व के बार-बार दखल देने के बावजूद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब कांग्रेस चीफ नवजोत सिंह सिद्धू का गुट एक दूसरे पर तीखे वार करने से नहीं चूक रहा है। नवजोत सिद्धू के अडवाइजर लगातार ऐसे कमेंट कर रहे हैं जिससे विवाद पैदा होता है। अब उनके सलाहकार मलविंदर सिंह माली ने कैप्टन को ‘अली बाबा’ और उनके सहयोगियों को ‘चालीस चोर’ करार दे दिया।

इस बयानबाजी के बाद कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने नवजोत सिंह सिद्धू से कहा कि वे अपने सलाहकारों को काबू में रखें। उन्होंने यहां तक कह दिया कि ऐसे लोगों को या तो आप पद से हटा दें या फिर उन्हें ही यह काम करना पड़ेगा।

सिद्धू के इन्हीं सलाहकार मलविंदर सिंह माली एक सप्ताह से चर्चा में हैं। इससे पहले उन्होंने कह दिया था कि कश्मीर एक अलग देश हुआ करता था। भारत और पाकिस्तान दोनों ने उसपर अवैध कब्जा किया था। इस बयान के बाद उनकी जमकर आलोचना हुई। माली ने सोशल मीडिया पर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का एक स्केच शेयर किया था। इसमें पूर्व प्रधानमंत्री नरकंकालों के ढेर के पास खड़ी थीं और उनके हाथ में बंदूक थी। इसपर कांग्रेस के अंदर ही बहुत सारे लोगों ने नाराजगी जताई।

पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने कहा कि बहुत मेहनत करके पंजाब में आशा का माहौल तैयार किया गया है और पार्टी के लोगों को इस विश्वास को डिगने से रोकना है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि 2022 में होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव भी कैप्टन अमरिंदर की अगुआई में लड़े जाएंगे। पंजाब में चार मंत्री समेत 24 विधायक कैप्टन अमरिंदर सिंह को पद से हटाने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि कैप्टन ने अपने वादे पूरे नहीं किए हैं इसलिए उनका विश्वास इस सरकार में नहीं बचा है।