नागपुर में RSS प्रमुख मोहन भागवत से मिले पूर्व CJI एसए बोबडे, हेडगेवार के घर भी गए

यह पहली बार है जब जस्टिस बोबडे ने संघ मुख्यालय में औपचारिक रूप से आरएसएस प्रमुख से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने आरएसएस के संस्थापक के बी हेडगेवार के पैतृक घर का भी दौरा किया। 

Bobde meets Mohan Bhagwat , Bobde meets Bhagwat, Former CJI Bobe with Bhagwat, Former CJI meets Bhagwat, पूर्व मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबडे ने मोहन भागवत से मुलाकात की। (express file photo)

भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबडे ने मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात की। हालांकि आरएसएस के अधिकारियों ने इस तरह की बैठक की किसी भी जानकारी होने से इनकार किया है। 

सूत्रों के मुताबिक, “बैठक शाम 4 से 5 बजे के बीच महल इलाके में स्थित आरएसएस मुख्यालय में हुई।” यह पहली बार है जब जस्टिस बोबडे ने संघ मुख्यालय में औपचारिक रूप से आरएसएस प्रमुख से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने आरएसएस के संस्थापक के बी हेडगेवार के पैतृक घर का भी दौरा किया। संघ के एक पदाधिकारी ने बताया कि जस्टिस बोबडे ने उस घर का दौरा किया जिसमें हेडगेवार  का जन्म हुआ था। पदाधिकारी के अनुसार बोबडे ने यह दौरा यह देखने के लिए किया कि उस मकान को कैसे संजोया गया है?

जस्टिस बोबडे नागपुर के रहने वाले हैं और उन्होंने कई सालों तक शहर में वकालत की थी। इस साल की शुरुआत में सीजेआई के रूप में सेवानिवृत्त होने के बाद, वह अपना समय नागपुर और दिल्ली में बिता रहे हैं।

उनके पूर्ववर्ती न्यायमूर्ति रंजन गोगोई को पिछले साल उनकी सेवानिवृत्ति के तुरंत बाद राज्यसभा के लिए नामित किया गया था, जिससे एक बड़ा विवाद पैदा हुआ था। बता दें पूर्व न्यायाधीश बोबडे पिछले साल तब विवादों में आ गए थे जब उनकी मोटरसाइकिल पर बैठे हुए एक तस्वीर वायरल हुई थी।  

तस्वीर में वे अमरीकी कंपनी हार्ले डेविडसन की लिमिटेड एडिशन बाइक पर बैठे थे। द फ्री प्रेस जर्नल की खबर के मुताबिक यह बाइक स्थानीय बीजेपी नेता सोनबा मुसाले के बेटे रोहित सोनबा मुसाले की थी। जिसके बाद कई लोगों ने इसपर सवाल खड़े किए थे।