नीलामी के दौरान हर बार किसी न किसी खिलाड़ी की किस्मत चमकती है

आइइपीएल सत्र के लिए नीलामी के दौरान हर बार किसी न किसी खिलाड़ी की किस्मत निश्चित रूप से चमकती है।

cricket

उस खिलाड़ी को रेकॉर्ड बोली के साथ टीम में शामिल किया जाता है। इस सत्र के दस खिलाड़ियों ने बेस प्राइस दो करोड़ रुपए रखा है। इससे पहले कुछ खिलाड़ियों को रेकॉर्ड बोली के साथ फ्रेंचाइजियों ने खरीदा है। इस बार यह देखना रोचक होगा कि किस खिलाड़ी पर बड़ी बोली लगती है।

युवराज पर लगी सबसे बड़ी बोली

युवराज सिंह को 2015 सत्र के लिए दिल्ली ने 16 करोड़ की रेकॉर्ड बोली लगाकर टीम में शामिल किया था। यह अब तक की सबसे बड़ी बोली है। युवी का तब जलवा था। 2007 टी-20 विश्व कप में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ छह गेंद पर छह छक्के लगाने के बाद एकदिवसीय विश्व कप जीत में भारत के नायक रहे युवराज को तब फटाफट क्रिकेट का सबसे आक्रामक बल्लेबाज माना जाता था। हालांकि वे इस सत्र में कुछ खास नहीं कर पाए। 14 मैचों में उन्होंने 248 रन बनाए और एक विकेट चटकाए।

कमिंस करीब पहुंचे

2020 सत्र के लिए पैट कमिंस पर भी कोलकाता नाइटराइटर्स ने काफी बड़ी बोली लगाई थी। वे युवराज के रेकॉर्ड को तोड़ने के करीब पहुंच गए थे। उन्हें इस फ्रेंचाइजी ने 15.50 करोड़ रुपए में खरीदा। यह अब तक किसी भी विदेशी खिलाड़ी पर बोली में खर्च किया हुआ सबसे ज्यादा पैसा था। कमिंस भी युवी की तरह सत्र में कोई जलवा नहीं बिखेर पाए। नाम बड़े और दर्शन छोटे की कहावत को उन्होंने ने भी साबित किया।

इस बार किस पर लगेगा दांव

बांग्लादेशी खिलाड़ी शाकिब अल हसन एक साल के बैन के बाद मैदान पर लौट चुके हैं। उन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन से साबित भी कर दिया कि उनके हुनर को अभी भी जंग नहीं लगी है। इस बार इस खिलाड़ी पर फ्रेंचाइजियों की निगाहें होंगी। वे उन पर बड़ी बोली लगा सकते हैं। उन्होंने अपना बेस प्राइस दो करोड़ रुपए रखा है। शाकिब टीम को मध्यक्रम में बल्ले से मजबूती देने के साथ गेंद से भी फायदा दिला सकते हैं।

आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और राजस्थान रॉयल्स की अगुआई कर चुके स्टीव स्मिथ पर भी फ्रेंचाइजियों की निगाहें होंगी। भारत के खिलाफ टैस्ट में वे ज्यादा नहीं चल पाए लेकिन उनके हुनर से सभी वाकिफ हैं। दो करोड़ की बेस प्राइस के साथ नीलामी में भाग ले रहे स्मिथ लीग के 13वें सत्र में 25.91 के औसत से 311 रन ही बना पाए लेकिन भारत के खिलाफ हाल में खेले गए एकदिसीय शृंखला में उन्होंने दो शतक लगाए।