नेताजी के कार्यक्रम में रूठ गई थीं ममता, शाह ने कहा- मैं होता तो मैं भी जोर से लगा देता ‘जयश्री राम’ का नारा

एंकर ने अमित शाह से कहा कि टीएमसी को दिक्कत है कि सरकारी कार्यक्रम में ‘जय श्री राम’ के नारे क्यों लगाए गए। नेताजी की जयंती में ऐसे नारे नहीं लगने चाहिए थे। इसपर अमित शाह ने कहा “जनता कभी सरकारी नहीं होती।

Amit Shah Abp News, Amit Shah on West Bengal Election 2021, ABP Shikhar Sammelan 2021, Amit Shah, Mamata Banerjee

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने न्यूज़ चैनल ‘एबीपी’ न्यूज़ से बात करते हुए एक बार फिर पश्चिम बंगाल की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी पर हमला किया है। अमित शाह ने पूछा कि तृणमूल कांग्रेस (TMC) के लोगों को ‘जय श्री राम’ के नारे से दिक्कत क्या है। अगर कोई उनके सामने जय श्री राम चिल्ला रहा है, तो उन्हें भी बोल देना चाहिए।

एंकर ने अमित शाह से कहा कि टीएमसी को दिक्कत है कि सरकारी कार्यक्रम में ‘जय श्री राम’ के नारे क्यों लगाए गए। नेताजी की जयंती में ऐसे नारे नहीं लगने चाहिए थे। इसपर अमित शाह ने कहा “जनता कभी सरकारी नहीं होती। जनता जयश्री राम का नारा लगा रही है तो मैं वहां होता तो मैं भी लगा देता। बात समाप्त हो जाती, इसमें इतना रूठ जाने की क्या बात है।” इसपर एंकर ने कहा “जय हिन्द के नारे लगवाने चाहिए थे।”

अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के मंत्री पर हुए बम से हमले को लेकर कहा कि ममता बनर्जी इसकी जांच सीबीआई को सौंप दे। हम दूध का दूध और पानी का पानी कर देंगे. वो आरोप लगा रही हैं। हम इसकी जांच करवाएंगे। अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से लड़ें। उन्हें इतना विश्वास है तो वह सिर्फ एक जगह से चुनाव लड़ें। नंदीग्राम से ही लड़ें। हम दमखम से लड़ेंगे।

बता दें कि शुभेंदु अधिकारी के बीजेपी में शामिल होने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि हम नंदीग्राम से लड़ेंगे। नंदीग्राम शुभेंदु अधिकारी का गढ़ माना जाता है। शाह ने कहा, ”कोई चुनाव आसान नहीं होता है। मैं चुनाव को कठिन मान कर ही लड़ता हूं। लेकिन मुझे आत्मविश्वास है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में 200 से अधिक ज्यादा सीटों के साथ बीजेपी सरकार बनाएगी। ”