नेपाल ने पहली बार माना चीन के साथ है सीमा विवाद, अतिक्रमण की जांच के लिए बनेगी कमेटी

काठमांडू. नेपाल ने दुनिया के सामने पहली बार स्वीकार किया है कि उसका चीन के साथ सीमा विवाद चल रहा है. नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा (Prime Minister of Nepal Sher Bahadur Deuba) के नेतृत्व में एक कैबिनेट बैठक हुई. जिसमें उन्होंने हिमालयी जिले हुमला में चीन के साथ सीमा विवाद (Border dispute) का डीटेल अधय्यन करने के लिए एक समिति का गठन किया है

यह बैठक बुधवार को दोपहर में हुई. मंत्रिपरिषद की बैठक में हुमला जिले (Humla District) के नामखा ग्राम नगर पालिका में लिमी लपचा से हिल्ला तक सीमा विवाद का अध्ययन करने के लिए समिति गठित करने का निर्णय लिया गया.

मलेशियाई PM इस्माइल साबरी याकूब कोरोना संक्रमित शख्स के संपर्क में आए, क्वारंटाइन

कानून मंत्री ज्ञानेंद्र बहादुर कार्की ने कहा, ‘हमला जिले के सीमावर्ती इलाके में समस्याओं का अध्ययन करने के लिए गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव के समन्वय में सर्वेक्षण विभाग, नेपाल पुलिस, सशस्त्र पुलिस और सीमा विशेषज्ञों की एक समिति गठित की गई है.’ मंत्री ने कहा, ‘यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि चीन ने पिछले साल नेपाली भूमि पर अतिक्रमण किया था और हुमला में नौ भवन बनाए गए थे.’

चीन का था लिमी में कई इलाक़ों पर कब्जा
मुख्य जिला अधिकारी के नेतृत्व में एक सरकारी टीम ने भी साइट पर अध्ययन किया. हालांकि रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं है, पूर्व प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के नेतृत्व वाले प्रशासन के दौरान विदेश मंत्रालय ने कहा कि चीन ने सीमा पर अतिक्रमण नहीं किया है. दरअसल साल 2020 के सितंबर महीने में खबर आई थी कि नेपाल का पड़ोसी देश चीन ने नेपाल के हुमला जिले के लिमी में कई इलाकों पर कब्जा कर लिया है, और उसकी सीमा के भीतर नौ इमारतें बना ली हैं. इस अतिक्रमण के बाद नेपाल की राजधानी काठमांडू में चीन के दूतावास के बाहर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुए थे.

अब पेरिस की सड़कों पर 60 के बजाय 30 किमी/घंटा की रफ्तार से ही दौड़ेंगी गाड़ियां

जिसके बाज नेपाली विदेश मंत्रालय ने अपने आधिकारिक बयान में कहा था, ‘डिपार्टमेंट ऑफ सर्वे ने नेपाल सरकार के आधिकारिक दस्तावेजों के अनुसार ज्वाइंट फ़ील्ड इंस्पेक्शन किया और सीमा मानचित्र की जांच की और पाया कि इमारत नेपाली ज़मीन पर नहीं बनाई गई हैं.’ (एजेंसी इनपुट)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.