नोएडा को मॉडर्न बनाना चाहते हैं सीएम योगी; पड़ोसी गाजियाबाद बेहाल, बना दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर

उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नोएडा को राज्य के सबसे मॉडर्न और योजनाबद्ध शहर के रूप में देखना चाहते हैं और वे इस दिशा में लगातार काम भी कर रहे हैं।

noida, ghaziabad उत्तरप्रदेश सरकार एक तरफ नोएडा को मॉडर्न सिटी बनाने में जुटी है तो दूसरी तरफ पड़ोसी गाजियाबाद को दूसरा सबसे प्रदूषित शहर घोषित किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो: अभिनव साहा )

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिल्ली से सटे नोएडा को सबसे मॉडर्न और योजनाबद्ध शहर बनाना चाहते हैं लेकिन पड़ोसी गाजियाबाद की स्थिति बद से बदतर हो रही है। ब्रिटेन की एक रिपोर्ट में गाजियाबाद को दुनिया का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर घोषित किया है। गाजियाबाद में जाम लगने की वजह से वहां का प्रदूषण दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। 

उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नोएडा को राज्य के सबसे मॉडर्न और योजनाबद्ध शहर के रूप में देखना चाहते हैं और वे इस दिशा में लगातार काम भी कर रहे हैं। साथ ही बयान में नोएडा में चल रहे मेट्रो और फिल्मसिटी समेत कई प्रोजेक्ट का हवाला देते हुए कहा गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसे कार्यों को ध्यान में रखकर विकास कार्य कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा में उत्तर भारत का सबसे बड़ा मेडिकल डिवाइस पार्क बनाने का ऐलान किया है। इसके लिए आईआईटी कानपुर से इसका अनुबंध भी किया गया है। इससे 20 हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलने की संभावना है। इसके अलावा उत्तरप्रदेश सरकार की पहल पर नोएडा में कई बड़ी कंपनियों के प्रोजेक्ट भी शुरू हो रहे हैं। इनमें सैमसंग, माइक्रोसॉफ्ट और अडानी जैसी कई कंपनियां शामिल हैं।

भले ही योगी आदित्यनाथ सरकार नोएडा को हाईटेक और मॉडर्न सिटी बनाने में लगी हो लेकिन पड़ोसी गाजियाबाद का बुरा हाल है। ब्रिटेन की हाउसफ्रेश की रिपोर्ट में गाजियाबाद को विश्व का दूसरा सबसे अधिक प्रदूषित शहर घोषित किया गया है। ट्रैफिक जाम की वजह से होने वाले प्रदूषण की वजह से इसे दूसरे नंबर पर रखा गया है। रिपोर्ट के अनुसार गाजियाबाद शहर का पीएम-10 और पीएम 2.5 का लेवल काफी बढ़ जाता है।

ब्रिटेन की कंपनी हाउसफ्रेश द्वारा जारी इस रिपोर्ट में सबसे पहले नंबर पर चीन के होटन शहर को रखा गया है। इसके बाद दूसरे नंबर पर उत्तरप्रदेश का गाजियाबाद है। गाजियाबाद के बाद तीसरे नंबर पर बांग्लादेश के मानिकगंज को रखा गया है। इस रिपोर्ट में दुनिया भर के 50 सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में अधिकांश शहर भारत, पाकिस्तान, चीन और बांग्लादेश के हैं।