पाकिस्तानः क्वेटा में होटल में भीषण बम विस्फोट, कम से कम 5 की मौत, शहर में मौजूद चीनी राजदूत थे निशाना- रिपोर्ट्स

बम निष्क्रिय करने वाले दस्ते के मुताबिक, धमाके में 40 से 50 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था।

Pakistan, Quetta Blast

दक्षिण पश्चिमी पाकिस्तान के अशांत शहर क्वेटा में एक आलीशान होटल के पार्किंग इलाके में हुए भीषण बम विस्फोट में कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी तालिबान ने ली है। शुरुआती रिपोर्ट्स में बताया गया है कि इस धमाके का निशाना चीनी राजदूत नोंग रोंग थे। लेकिन घटना के वक्त वे होटल में मौजूद नहीं थे। उधर पाकिस्तानी अफसरों ने भी कहा है कि विस्फोट के वक्त इमारत में चीनी प्रतिनिधिमंडल मौजूद नहीं था।

यह विस्फोट बुधवार की रात क्वेटा के सेरेना होटल के पार्किंग क्षेत्र में हुआ। विस्फोट के बाद पार्किंग में खड़े कुछ वाहनों में आग लग गई थी। कुछ शुरुआती खबरों में कहा गया था कि होटल में चीनी राजदूत मौजूद थे। क्वेटा पाकिस्तान के बलोचिस्तान प्रांत की राजधानी है।

पुलिस के मुताबिक, शुरुआती जांच में पता चला कि एक कार के भीतर रखी विस्फोटक सामग्री में धमाका हो गया। वहीं बम निष्क्रिय करने वाले दस्ते के मुताबिक, धमाके में 40 से 50 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था।

दमकल की एक गाड़ी आग बुझाने के लिए तत्काल मौके पर पहुंची। दमकल कर्मी आग पर काबू पाने में सफल रहे और अब जगह को ठंडी करने की प्रक्रिया जारी है। भीषण विस्फोट की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनी गई।

विस्फोट के असर से पास की बलोचिस्तान असेंबली, उच्च न्यायालय और अन्य इमारतों की खिड़कियां टूट गईं। प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) ने विस्फोट की जिम्मेदारी ली है। टीटीपी के एक प्रवक्ता ने कहा, “हमारे आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटक से भरी अपनी कार का होटल में इस्तेमाल किया।”

हालांकि, पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच में सामने आया कि विस्फोटक सामग्री को होटल के पार्किंग में खड़ी एक कार में रखा गया था। बलोचिस्तान के महानिरीक्षक (आईजी) मुहम्मद ताहिर राय ने कहा कि पुलिस अब भी विस्फोट की तीव्रता का आकलन कर रही है। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि विस्फोट के वक्त कोई भी राजदूत या विदेशी प्रतिनिधिमंडल का सदस्य होटल में नहीं था।