पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर बोले भाजपा नेता, सस्ता चाहिए तो अफगानिस्तान चले जाओ, वहां 50 रुपये में है

पत्रकार से बात करते हुए मध्य प्रदेश के कटनी के भाजपा जिलाध्यक्ष रामरतन पायल ने कहा, “तालिबान, चले जाओ, वहां जाकर देख लो। पेट्रोल 50 रुपये है वहां। वहां से भरवा के लाओ। वहां भरवाने वाला कोई नहीं है।”

Inflation, BJP Leader, Afghanistan, Ramratan Payal, Madhya Pradesh, Katni,महंगाई, बीजेपी नेता, अफगानिस्तान, रामरतन पायल, मध्यप्रदेश, कटनी मध्य प्रदेश के कटनी के भाजपा जिलाध्यक्ष रामरतन पायल। (video screenshot)

कोरोना महामारी के बीच पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रहीं हैं। इसके चलते आम आदमी को कोरोना और महनगी की दोहरी मार का सामना करना पड़ रहा है। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने इसे लेकर विवादित बयान दिया है। भाजपा नेता ने कहा कि अगर आपको पेट्रोल-डीजल सस्ता चाहिए तो अफगानिस्तान चले जाओ।

एक पत्रकार से बात करते हुए मध्य प्रदेश के कटनी के भाजपा जिलाध्यक्ष रामरतन पायल ने कहा, “तालिबान, चले जाओ, वहां जाकर देख लो। पेट्रोल 50 रुपये है वहां। वहां से भरवा के लाओ। वहां भरवाने वाला कोई नहीं है।” पायल ने पत्रकारों से कहा कि देश में कोरोना की दो लहरें आ चुकी हैं, तीसरी लहर आने वाली है। देश किस स्थिति से गुजर रहा है, जरा भी अहसास है आपको? तुम्हें पेट्रोल-डीजल की पड़ी है।

इसपर पत्रकार ने कहा, “लेकिन मैं अपने देश की बात कर रहा हूं। महंगाई चरम सीमा पर है?” इसपर भाजपा नेता ने फिर कहा, ‘तो तालिबान चले जाओ, यहां क्यों हो।” चौकाने वाली बात यह है कि वीडियो में भाजपा जिलाध्यक्ष कोविड की तीसरी लहर आने की बात कर रहे थे और खुद ही मास्क नहीं लगाए हैं।  उनके साथी भी बिना मास्क नहीं लगाए साथ में खड़े दिखाई दे रहे हैं।

इससे पहले कांग्रेस ने रसोई गैस की कीमतों में ताजा बढ़ोतरी को लेकर बुधवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार हर महीने एलपीजी के दाम बढ़ाकर ‘उगाही योजना’ चला रही है। पार्टी ने यह भी कहा कि गैस सिलेंडर के दाम कम करके आम गृहणियों को राहत प्रदान की जाए।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘जुमलों का सच है जनता के सामने, ‘उल्टा विकास’ हुआ पिछले 7 साल में।’’ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने केंद्र सरकार पर रसोई गैस के दाम बढ़ाकर ‘उगाही योजना’ चलाने का आरोप लगाया।

 
उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘गत एक जुलाई को रसोई गैस पर मोदी जी की सरकार ने 25 रुपये बढ़ाया और 17 अगस्त को फिर 25 रुपये बढ़ा दिये। उज्ज्वला का सपना दिखाकर, हर महीने रसोई गैस के दाम बढ़ाकर भाजपा सरकार की उगाही योजना फल-फूल रही है।’’

उधर, पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत समेत पार्टी की कई महिला नेताओं ने बुधवार को मिट्टी का चूल्हा, लकड़ी और गैस सिलेंडर के साथ मीडिया से बात की और सरकार से आग्रह किया कि रसोई गैस की कीमतों में हुई बढ़ोतरी को वापस लेकर आम गृहणियों को राहत प्रदान की जाए।