पेट्रोल-रसोई गैस के दाम बढ़ने की आंच आम आदमी पर पड़ रही है और हम अमिताभ-अक्षय की बात कर रहे हैं, एंकर बोलीं- जो ज्ञान मुझे दे रहीं, वो नाना पटोले को बताएं

पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों पर विपक्ष ने पीएम मोदी को घेरा, डिबेट में बोले कांग्रेस-SP प्रवक्ता- कब तक पिछली सरकारों का राग अलापेंगे

fuel price hike, tv debate

देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी से आम आदमी बेहाल हो गया है। इसको लेकर राजनीतिक दलों में भी बहस शुरू हो गई है। कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल मोदी सरकार के खिलाफ गुस्सा निकालते हुए आंदोलन की चेतावनी दे रहे हैं। टीवी चैनलों पर डिबेट में सत्ता पक्ष और विपक्ष के प्रवक्ताओं में जोरदार बहस हो रही है। विपक्ष का आरोप है कि सरकार आम आदमी के मुद्दों के प्रति बेपरवाह होती जा रही है। न्यूज चैनल आज तक के हल्ला कार्यक्रम में इस मुद्दे को लेकर बड़ी चर्चा हुई।

एंकर अंजना ओमकश्यप ने कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत से पूछा, “क्या कांग्रेस पार्टी अब शिवसेना या ऐसी पार्टियों की भाषा बोलने लग गई है, कलाकारों को धमकाएगी? महाराष्ट्र के कांग्रेस अध्यक्ष कह रहे हैं कि अमिताभ बच्चन और अक्षय कुमार महंगाई पर बोलें नहीं तो उनकी फिल्में रिलीज नहीं होने देंगे, शूटिंग नहीं होने देंगे।”

कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा, “हम क्या यह भूल गए कि 100 रुपए पेट्रोल और 175 रुपए रसोईं गैस के दाम दो महीने पहले बढ़ते हैं तो उसकी आंच सबसे पहले आम आदमी पर पड़ती है। आम आदमी पर कहर बरपा है और हम अमिताभ बच्चन और अक्षय कुमार की बात कर रहे हैं। हजार रुपए भी पेट्रोल के दाम हो जाएं तो उनकी सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।”

अंजना ओम कश्यप ने कहा कि यह बात आप नाना पटोले को बताइए। जो ज्ञान आप हमें दे रही हैं, वह नाना पटोले को दीजिए।

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि “मैं आपको ज्ञान नहीं दे रही हूं। मैं आंच की बात कर रही हूं। वह आंच आम आदमी पर पड़ रही है। नाना पटोले ने जो कहा मैं उसका समर्थन नहीं करती हूं। मुझे लगता है यह आजाद देश है यहां सब कुछ हो सकता है।”

दरअसल महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने गुरुवार को कहा था कि अगर अभिनेता अमिताभ बच्चन और अक्षय कुमार ईंधन की कीमतों में वृद्धि के मुद्दे पर कोई स्पष्ट रुख नहीं अपनाते हैं तो राज्य में उनकी फिल्मों के प्रदर्शन और शूटिंग की इजाजत नहीं दी जाएगी।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि बच्चन और कुमार ने संप्रग के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकार के दौरान ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी पर ट्वीट किया था, लेकिन अब वे इस मुद्दे पर खामोश हैं। कहा कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से आम लोग काफी प्रभावित हुए हैं।

अंजना ओमकश्यप ने सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया से पूछा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आग लगी है कि नहीं तो उन्होंने कहा कि “देश में भाजपा सरकार मुद्दों पर बात न करके व्यक्तिगत हमले करने में लगी है। सरकार देश के लिए है, देश की समस्याओं पर बात नहीं कर रही है।”

पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों पर विपक्ष ने पीएम मोदी और भाजपा को भी घेरा। डिबेट में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता बोले कि कब तक पिछली सरकारों का राग अलापेंगे। अब तो कम से कम महंगाई और आम आदमी से जुड़े दूसरे मुद्दों पर बोलें।