पैनलिस्ट ने कहा भगवा तालिबान तो भड़क गए अमिश देवगन, बोले- रंगों से मत जोड़िए, वरना कौन सा रंग आएगा सोचिएगा जरा

न्यूज 18 के डिबेट शो में पैनिल्सट ने ‘भगवा आतंकवाद’ का जिक्र किया, जिसे लेकर न्यूज एंकर अमिश देवगन भड़के नजर आए।

amish devgan, shoaib jamei अमिश देवगन ने पैनलिस्ट पर जाहिर किया गुस्सा (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस, शोएब जामई ट्विटर)

अफगानिस्तान से जुड़ा मुद्दा तूल पकड़ता जा रहा है। देश में तालिबान के कब्जे के बाद से ही अफगानिस्तान से लोग भागने के लिए मजबूर हैं। वहीं दूसरी ओर भारत में मौजूद कुछ लोग तालिबान का समर्थन करते हुए भी नजर आए। इस मामले को लेकर न्यूज 18 के डिबेट शो ‘आर-पार’ में भी चर्चा की गई, जहां भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया, राजनीतिक विशेषज्ञ शहजाद पूनावाला और आईएमएफ अध्यक्ष शोएब जामई जैसे कई लोग भी मौजूद रहे। डिबेट में शोएब जामई ने ‘भगवा तालिबानी’ शब्द का प्रयोग किया, जिसपर न्यूज एंकर अमिश देवगन भड़के नजर आए।

दरअसल, अमिश देवगन ने आईएमएफ अध्यक्ष शोएब जामई से तालिबान का समर्थन करने वाले लोगों को लेकर सवाल किया गया था। इसके जवाब में शोएब ने कहा, “जो कानपुर और इंदौर में हुआ, उसे तो सपोर्ट करते हैं। संबित पात्रा मेरे साथ डिबेट में बैठकर उसका समर्थन कर रहे थे। अब आप बताइये, ये लोग यहां बैठे-बैठे भगवा तालिबानियों का समर्थन करते हैं।”

शोएब जामई की इस बात पर न्यूज एंकर अमिश देवगन ने नाराजगी जाहिर की। उन्होंने पैनलिस्ट को जवाब देते हुए कहा, “भगवा तालिबानी, कौन से भगवा तालिबानी हैं?” उनकी बात का जवाब देते हुए आईएमएफ अध्यक्ष ने कहा, “मैंने तो तालिबान का सपोर्ट नहीं किया था। मैंने यहां सरकार से सवाल पूछ लिया तो मैं देशद्रोही हो गया। आपने मुझे तालिबानी प्रेम गैंग बता दिया।”

वहीं अमिश देवगन ने पैनलिस्ट को जवाब देते हुए कहा, “भगवा तालिबान नहीं है, भगवा सरकार नहीं है। आप रंगों से तालिबान को जोड़ रहे हैं, फिर कौन सा रंग आएगा, सोचियेगा जरा। इसलिए भगवा तालिबानी, जिस शब्द का आपने प्रयोग किया है, वही आपकी सोच को दिखाता है। वही आपके विचार और विमर्श को दिखाता है। मैं आपसे सवाल कर रहा हूं कि आप तालिबान का समर्थन क्यों करते हैं?”

अमिश देवगन की बात पर शोएब जामई ने सवाल किया, “आप सरकार की तरफ से बैटिंग क्यों करते हैं।” उनका जवाब देते हुए अमिश देवगन ने कहा, “मैं देश के लिए बैटिंग करता हूं और ताउम्र करता रहुंगा। जब आपके पास कठिन सवालों के जवाब नहीं होते तो आप इधर-उधर भागने लगते हैं। लेकिन आज आप अमिश देवगन के सामने फंसे हैं।”