प्रभु चावला ने पूछा-मजबूत विपक्ष का नेतृत्व कौन कर सकता है? कमलनाथ ने कहा- बार-बार…आप भी बाज नहीं आ रहे

प्रभु चावला ने कहा कि गांधी के बिना कांग्रेस का सोचना मुश्किल है। क्या अभी भी आप ये मानते हैं कि कांग्रेस का नेतृत्व गांधी ही करेंगे तो अच्छा रहेगा?

Aaj tak, seedhi baat, prabhi chawal, kamalnath , congress , assam, bengal, kerala, BJP, jansatta

आजतक के शो ‘सीधी बात’ में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से प्रभु चावला ने कहा कि विपक्ष के सामने चुनौती बहुत बड़ी है। लेकिन मजबूत विपक्ष का नेतृत्व कौन कर सकता है? जवाब देते हुए कमलनाथ ने कहा कि इस सवाल को बार-बार पूछने से आप भी बाज नहीं आ रहे हैं। हंसते हुए उन्होंने कहा कि मैं इसका जवाब नहीं दे रहा क्योंकि मैं इस पर कुछ कह नहीं सकता हूं।

कमलनाथ ने कहा कि सबसे मेरी बात नहीं होती है। मैं सब से बात नहीं कर सकता हूं सोनिया जी बात करेंगी, पार्टी के दूसरे नेता लोगों से बात करेंगे। ऐसे बैठकर मैं नहीं कह सकता हूं कि ये बनेगा। ऐसे नहीं होता है सबके अपने विचार होते हैं। प्रभु चावला ने कमलनाथ से सवाल किया कि आपको नहीं लगता है जब राहुल गांधी अध्यक्ष बनना नहीं चाहते हैं तो किसी और को अध्यक्ष बनाना चाहिए? कमलनाथ ने कहा कि बिल्कुल, कोई और भी नेतृत्व दे सकता है पार्टी को, ये बात सामने आएगी।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि साथ ही हमें रिकोर्ड देखना चाहिए सोनिया गांधी जी का उन्होंने उस समय संगठन को संभाला था जब सीताराम केसरी हटे थे। साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने तो कह दिया कि मैं मध्यप्रदेश में ही हूं,और मैं मध्यप्रदेश में ही रहना चाहता हूं।

प्रभु चावला ने कहा कि गांधी के बिना कांग्रेस का सोचना मुश्किल है। क्या अभी भी आप ये मानते हैं कि कांग्रेस का नेतृत्व गांधी ही करेंगे तो अच्छा रहेगा? कमलनाथ ने कहा कि ये काफी महत्वपूर्ण बात है, हमें गांधी मतलब सोनिया जी के छत्रछाया में रहना सही है।

प्रभु चावला ने कहा कि आपकी बात को जितना मैं समझ पाया हूं वो ये है कि कांग्रेस का अध्यक्ष कोई भी रहे लेकिन कांग्रेस सोनिया जी के छत्रछाया में ही चलेगी। कमलनाथ ने कहा बिल्कुल। ये बात सिर्फ मैं नहीं कह रहा हूं यह जनता चाहती है।