प्रीति जिंटा को ‘लड़का’ कहकर बुलाया करते थे बॉबी देओल, चिल्लाने की आदत से परेशान हो गई थीं एक्ट्रेस

प्रीति जिंटा ने एक इंटरव्यू में बताया था कि बॉबी देओल उन्हें प्रीतम के नाम से बुलाते थे और उन्हें लड़के की तरह ट्रीट करते थे। बॉबी के चिल्लाकर बोलने की आदत से एक्ट्रेस परेशान भी हो गई थीं।

Preity Zinta, Bollywood Actress एक्ट्रेस प्रीति जिंटा (Photo- Indian Express)

प्रीति जिंटा ने भले ही अपने करियर में कम फिल्मों में काम किया हो, लेकिन उन्होंने जिस भी फिल्म में एक्टिंग की वो सबसे अलग साबित हुई। प्रीति के करियर में एक ऐसी ही फिल्म थी ‘सोल्जर’। सोल्जर में प्रीति के साथ धर्मेंद्र के बेटे और एक्टर बॉबी देओल नजर आए थे। दोनों की जोड़ी को फैन्स ने खूब पसंद किया था। यहीं से प्रीति और बॉबी के बीच अच्छी बॉन्डिंग भी देखने को मिली थी।

प्रीति जिंटा को बॉबी देओल की एक आदत बिल्कुल भी पसंद नहीं थी और वह अक्सर इसका विरोध भी किया करते थे। प्रीति ने एक इंटरव्यू में बताया था, ‘बॉबी मुझे लड़कों की तरह ट्रीट करता था। उसे लगता था कि मैं लड़की नहीं बल्कि लड़का हूं। हम दोनों का बिल्कुल अलग रिश्ता है। हम दोनों एक-दूसरे के बहुत अच्छे दोस्त हैं। पहले कभी-कभी बहुत तेजी से चिल्लाकर बोलता था। मैं बॉबी को कहती थी कि ये क्या कर रहा है? सच में मैं परेशान हो गई थी।’

प्रीति कहती हैं, ‘बॉबी सच में बहुत अच्छा इंसान है और उसके साथ मस्ती करनी हो तो पूछो मत। कई लोगों को लगता है कि मं असुरक्षित हूं, लेकिन मैं ऐसी बिल्कुल भी नहीं हूं। मैं क्यों असुरक्षित क्यों महसूस करूंगी। मैंने बचपन से बहुत सारी गन चलाई हैं क्योंकि मेरे पिता आर्मी में थे। मैंने भी कई गन चलाई हैं और फिर मैंने सनी देओल के साथ ‘हीरो’ में काम किया है तो इन्होंने भी मुझे गन चलानी सिखाई थी।’

प्रीति को देखकर खड़े हो जाते थे दोनों डायरेक्टर: एक्ट्रेस प्रीति जिंटा ने बताया था, ‘अब्बास-मस्तान बेहद अच्छे डायरेक्टर हैं। उन्होंने पूरी फिल्म की शूटिंग के दौरान कभी भी मुझे ये एहसास नहीं होने दिया कि मैं न्यूकमर हूं। मैं जैसे ही फिल्म के सेट पर पहुंचती थी तो वो मुझे देखते ही कुर्सी छोड़ देते थे। एक बार तो मैंने मना भी किया कि ऐसा मत करिए तो उन्होंने कहा था कि आप हमारी हिरोइन हो हम आपके सामने कैसे बैठ सकते हैं। अब्बास और मस्तान का काम करने का अंदाज ही यही है।’