बंगाल चुनावः कांग्रेस प्रवक्ता बोले- भाजपा और टीएमसी दोनों शांति भंग कर रहे, सुधांशु त्रिवेदी ने दिया जवाब

बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता और उनकी मां पर हमले को लेकर सियासत तेज है।

farmers protest, Sudhanshu Trivedi

आज तक पर डिबेट के दौरान एंकर अंजना ओम कश्यप ने कांग्रेस प्रवक्ता से पूछा कि क्या बंगाल में आपके कार्यकर्ताओं के साथ भी मारपीट की जा रही है? इस पर कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि हिंसा कोई भी करे उसकी निंदी की जानी चाहिए। राजनीतिक दलों को भी इसको रोकनी की कोशिश करनी चाहिए। 85 वर्षीय महिला के ऊपर जो अत्याचार हुआ उसकी निंदा करनी चाहिए। प्रशासन को आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी करनी चाहिए। टीएमसी के राज में कानून व्यवस्था की स्थिति बहुत खराब है। बीजेपी और टीएमसी मिलकर बंगाल की शांति को बर्बाद करना चाहते हैं। बीजेपी और टीएमसी के लोगों को तो सुरक्षा है लेकिन आम लोगों को सुरक्षा नहीं है। अब चुनाव आयोग को आम लोगों की रक्षा करनी चाहिए।

डिबेट में बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि कानून व्यवस्था और हिंसा की समस्या तो बंगाल में कई सालों से है और पेट्रोल डीजल के दामों में इजाफा तो अभी हुआ है। अलग अलग राज्य सरकारें पेट्रोल डीजल पर टैक्स लेती हैं इसलिए वहां कीमतों में फर्क आ जाता है। केंद्र के हिस्सें में जो पेट्रोल डीजल से जो टैक्स आता है वह तो फिर से राज्यों के पास जाता है। डिबेट में कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि आज गृह मंत्रालय को इतनी समस्या हो रही है। इससे पहले क्या उनकी टीएमसी के साथ फिक्सिंग थी जो कुछ नहीं बोलते थे?

बता दें कि बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता और उनकी 85 वर्षीय मां पर हमले के मामले ने एक नया मोड़ ले लिया है। कार्यकर्ता के रिश्तेदार का आरोप है कि कार्यकर्ता खुद अपनी मां की पिटाई किया करता था।

मालूम हो कि बीजेपी कार्यकर्ता और उनकी मां पर हमले को लेकर बंगाल में सियासत तेज है। उत्तर 24 परगना में बीजेपी के एक कायकर्ता और उनकी मां को असामाजिक तत्वों द्वारा पीटा गया। बीजेपी कार्यकर्ता ने इसके लिए टीएमसी को जिम्मेदार बताया है।

उन्होंने आरोप लगाया बीते शनिवार को टीएमसी कार्यकर्ता उनके घर में घुस गए। इसके बाद मां-बेटे के साथ मारपीट की गई।

उन्होंने कहा, “अंधेरा था। मैं उनके चेहरे नहीं देख सका था क्योंकि वे मास्क पहने थे। उन्होंने मुझे गाली दी। उन्होंने मुझे भाजपा कार्यकर्ता होने के लिए गाली दी। इसलिए, मुझे लगता है कि वे टीएमसी से थे।”