बंगाल चुनाव: कोरोना टीकाकरण सर्ट‍िफ‍िकेट पर नरेंद्र मोदी की फोटो- तृणमूल कांग्रेस ने दी श‍िकायत

टीएमसी के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि चुनाव कि तारीखों का ऐलान हो चुका है। ऐसे में प्रधानमंत्री का फोटो कोरोना सार्टिफिकेट पर दिया जाना उचित नहीं है।

BJP, TMC, Mamta Banerjee

बंगाल में सियासी पारा चढ़ा हुआ है। विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के बीच लड़ाई जारी है। इसी क्रम में  टीएमसी ने बंगाल में कोरोना सार्टिफिकेट में पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर पर आपत्ति जताई है। टीएमसी ने इसे लेकर चुनाव आयोग के सामने शिकायत दर्ज करवाया है।

टीएमसी के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि चुनाव कि तारीखों का ऐलान हो चुका है। ऐसे में प्रधानमंत्री का फोटो कोरोना सार्टिफिकेट पर दिया जाना उचित नहीं है।  डेरेक ओ ब्रायन ने सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग से कहा है कि क्या ये चार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद आदर्श आचार संहिता का उल्लंधन नहीं है? उन्होने कहा कि चुनाव की घोषणा हो गयी लेकिन अभी भी बेशर्मी के साथ कोविड-19 दस्तावेजों पर पीएम की फोटो दिखाई जा रही है।

बताते चलें कि कोविड वैक्सीनेशन डोक्यूमेंट्स में सबसे नीचे पीएम मोदी की तस्वीर लगायी गयी है। हाल ही में प्रधानमंत्री ने स्वयं भी दिल्ली के एम्स पहुंच कर कोरोना का टीका लगवाया है।

इससे पहले बंगाल में निशुल्क टीका देने की बात को लेकर भी टीएमसी और बीजेपी के बीच विवाद देखने को मिला था। सीएम ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कहा था कि बंगाल में चुनाव है इसलिए बंगाल के लोगों को त्वरित गति से टीका लगाने की जरूरत है। इस कारण बंगाल को अधिक टीका दिया जाए। बंगाल सरकार अधिक टीका खरीदने के लिए तैयार है और बंगाल की जनता को निशुल्क टीका दिया जाए।

गौरतलब है कि बंगाल में 8 चरण में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। इस विधानसभा चुनाव में बीजेपी और टीएमसी के बीच कांटे की टक्कर बतायी जा रही है। हाल के दिनों में बीजेपी की तरफ से बंगाल में कई टीएमसी नेताओं को पार्टी में शामिल करवाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कई चुनावी सभाओं को संबोधित किया है।