बीजेपी सांसद ने नाम लिए बिना वेटर कह कर विदेश मंत्री एस जयशंकर पर मारा ताना

अफगानिस्तान की स्थिति को लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चिंता जताई। उन्होंने कहा कि दोहा में अमेरिका और तालिबान के बीच बातचीत के समय भारत का विश्वास नहीं हासिल किया गया।

अफगानिस्तान के मुद्दे पर जी 20 के विदेश मंत्रियों को संबोधन के दौरान की तस्वीर। फोटो- पीटीआई

अफगानिस्तान की स्थिति पर चिंता जताते हुए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा गया कि जब दोहा में अमेरिका और तालिबान के बीच हुई चर्चा को लेकर भारत के विचारों को नहीं शामिल किया गया। उन्होंने कहा कि भारत को इस समय चिंता है कि क्या अफगानिस्तान में समावेशी सरकार बन पाएगी। अफगानी ज़मीन का इस्तेमाल आतंक के लिए भी किया जा सकता है।

अमेरिका-भारत सामरिक गठजोड़ मंच (USISPF) के वार्षिक शिखर सम्मेलन में गुरुवार को विदेश मंत्री ने कहा कि भारत तालिबानी सरकार को मान्यता देने की जल्दबाजी में नहीं है। उन्होंने कहा कि दोहा में समझौते और बातचीत के दौरान भारत को विश्वास में नहीं लिया गया। इस बात पर भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने उनपर तंज कस दिया।

सोशल मीडिया पर एक ट्वीट का रिप्लाई करते हुए उन्होंने लिखा, ‘मीटिंग में बुलाए जाने के लिए वेटर की तरह इंतजार करते रह गए।’