बीजेपी सांसद हंसराज हंस ने sos संदेश भेज मांगी ऑक्सिजन, मदद को आगे आए कांग्रेस नेता

दिल्ली में ऑक्सीजन का संकट अभी भी जारी है। लोग अभी भी सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर मदद मांग रहे हैं।

bjp, coronavirus

दिल्ली में ऑक्सीजन का संकट अभी भी जारी है। लोग अभी भी सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर मदद मांग रहे हैं। जिससे उन्हें आसानी से ऑक्सीजन सिलेंडर मिल सके। मालूम हो कि ऑक्सीजन सिलेंडर इतनी आसानी से मिल नहीं रहा है। यहां तक ​​कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद समेत कई नेता भी असहाय दिख रहे हैं और लोगों से ट्विटर पर मदद करने की अपील कर रहे हैं। ऐसी ही एक घटना सामने आई है जब दिल्ली से भाजपा सांसद हंसराज हंस ने ट्विटर पर एक व्यक्ति को ऑक्सीजन सिलेंडर दिलाने में मदद की अपील की।

बीजेपी सांसद हंसराज हंस ने अपने ट्वीट में दिल्ली के अशोक विहार निवासी यश सिंधवानी की मदद करने की अपील की, जिन्हें तत्काल ऑक्सीजन की जरूरत थी। उन्होंने अपने ट्वीट में #SoS #SoSDelhi को भी टैग किया। हैरान कर देने वाली बात यह कि युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने तुरंत इस ट्वीट का जवाब दिया। युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने जवाब देते हुए कहा, “सांसद हंसराज जी, मैं परिवार के संपर्क में हूं, हम यश के पिता के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने की कोशिश कर रहे हैं।”

कांग्रेस नेता के इस ट्वीट के बाद लोगों ने उनकी तारीफ करनी शुरू कर दी। हालांकि भाजपा सांसद हंसराज हंस ने विशेष रूप से कांग्रेस से मदद नहीं मांगी थी, लेकिन फिर भी उन्होंने मदद के लिए हाथ बढ़ाया। इस बीच आज स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि देश में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध है। एक अगस्त 2020 को ऑक्सीजन का उत्पादन देश में 5,700 मीट्रिक टन था, जो अब लगभग 9,000 मीट्रिक टन हो गया है। सरकार ने बताया कि विदेशों से भी ऑक्सीजन का आयात किया जा रहा है।

देश में इस समय कोरोना के कुल मामलों में से 17 प्रतिशत एक्टिव मामले हैं। 81.77 प्रतिशत कोरोना मरीजों ने महामारी को हराया है। जबकि करीब 1 प्रतिशत मरीजों ने इस महामारी से अपनी जान गंवाई है। ये जानकारी अधिकारियों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए दी। सरकार का दावा है कि मृत्यु दर एक प्रतिशत से कम ही है। बीते कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में कमी देखी जा रही है। देश में 12 राज्य ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं।

वहीं, देश के 17 राज्य ऐसे हैं जहां 50 हजार से भी कम कोरोना के एक्टिव मामले हैं। 7 राज्य ऐसे हैं जहां 50 हजार से एक लाख के बीच कोरोना के एक्टिव मामले हैं। सरकार ने बताया कि देश में इस समय 34 लाख से ऊपर कोरोना के एक्टिव मामले हैं। वहीं करीब 2 लाख लोगों ने कोरोना से जान गंवाई है। इसके अलावा कोरोना से कुल एक करोड़ 62 लाख लोग ठीक हुए हैं।

देश में कोरोना पॉजिटिविटी की बात की जाए तो देश के 5 राज्य ऐसे हैं जहां पॉजिटिविटी 5 प्रतिशत से कम है। 9 राज्य ऐसे हैं जहां पॉजिटिविटी 5 से 15 प्रतिशत के बीच में है। 22 राज्यों में पॉजिटिविटी 15 प्रतिशत से ऊपर है।

बता दें कि भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3,68,147 नए मामले दर्ज किए गए। देश भर में 3,417 मौतें भी दर्ज की गईं।