भारतीय दिग्गज ने केएल राहुल में गिनाईं कमियां, कहा- उनमें टीम इंडिया का कप्तान बनने की क्षमता नहीं

अजय जडेजा ने कहा, ‘एक कप्तान जब कुछ करे तो दूसरे लोगों को लगना चाहिए कि वह जो कर रहा है, वह क्यों कर रहा है। लेकिन केएल राहुल के साथ वह कभी होता नहीं। आईपीएल टीम में भी नहीं होता।’

KL Rahul IPl 2021 PBKS Team India Captain T20 World Cup इंडियन प्रीमियर लीग में केएल राहुल की अगुआई में पंजाब किंग्स ने 56% मैच जीते हैं। (सोर्स- इंडियन प्रीमियर लीग)

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 में पंजाब किंग्स (Punjab Kings) के निरंतर संघर्ष करने के बावजूद भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी अजय जडेजा को लगता है कि टीम के कप्तान केएल राहुल में नेतृत्व क्षमता की कमी है। केएल राहुल के नेतृत्व में पंजाब किंग्स ने अब तक 25 मैच खेले हैं। इनमें से पंजाब किंग्स ने 14 में जीत हासिल की है। इसका मतलब आईपीएल में उनका सक्सेस रेट 56% है।

पंजाब किंग्स आईपीएल 2020 में प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई नहीं कर पाई थी। वह छठे स्थान पर रही थी। आईपीएल 2021 में भी उसके प्लेऑफ की संभावना लगभग खत्म है। अभी वह पांचवें नंबर पर है। वर्तमान में उसके 13 मैच में 10 अंक हैं। उसका नेट रनरेट (-0.241) भी अच्छा नहीं है।

अजय जडेजा ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, ‘अगर आप केएल राहुल को देखें, वह पिछले दो साल से इस टीम के कप्तान हैं। हालांकि, मुझे कभी नहीं लगता कि वह ‘लीडर’ हैं। यह टीम जब भी अच्छे या बुरे दौर से गुजरी है तब हम उनकी तरफ कभी नहीं देखते। आज जो टीम (पंजाब किंग्स की प्लेइंग इलेवन) खेल रही है, जो बदलाव किए गए हैं, क्या आपको लगता है कि केएल राहुल ने ऐसा किया होगा?’

अजय जडेजा ने कहा, ‘जब हम भारतीय कप्तान बनाते हैं या जो बनता है, जो होता है, उसमें सबसे महत्वपूर्ण चीज उसकी सोच होती है, क्योंकि उसे एक लीडर होना चाहिए। वह चीज मुझे अब तक केएल राहुल में इतनी नजर नहीं आई, क्योंकि वह बहुत मृदुभाषी हैं और हर चीज के साथ तालमेल बैठा लेते हैं। हां, अगर वह कभी टीम इंडिया के कप्तान बन गए तो यह बात पक्की है कि वह सबसे लंबे समय तक टिकेंगे, क्योंकि एडजस्ट करने वाला आदमी वहां पर ज्यादा रह पाता है।’

भारत के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘लेकिन जो एक लीडरशिप क्वालिटी होती है, मैं सहमत हूं या नहीं हूं, लेकिन जिसे आप हिंदुस्तान का कप्तान बनाएं कम से कम उस बंदे की कोई फिलासफी होनी चाहिए। क्योंकि भारतीय टीम की कप्तानी और आईपीएल की कप्तानी में बहुत ज्यादा फर्क होता है। वहां पर बहुत ज्यादा चीजें देखनी पड़ती हैं। मैं भारतीय कप्तान में जो लीडरशिप क्वालिटी देखता हूं…, क्योंकि वह तो बहुत सहमे हुए से हैं।’

अजय जडेजा ने कहा, ‘हालांकि, मैं उनको पर्सनली नहीं जानता। कई बार आपको उनका दूसरा रूप भी दिखता है। महेंद्र सिंह धोनी की तरह वह शांत स्वभाव के हैं। उनमें कई अच्छी चीजें भी हैं, लेकिन जो एक सबसे बड़ी चीज चाहिए, कि आपको लीडर होने चाहिए।’

अजय जडेजा ने कहा, ‘एक कप्तान जब कुछ करे तो दूसरे लोगों को लगना चाहिए कि वह जो कर रहा है, वह क्यों कर रहा है। लेकिन केएल राहुल के साथ वह कभी होता नहीं। आईपीएल टीम में भी नहीं होता, क्योंकि उन्होंने अपने कंधों पर ज्यादा जिम्मेदारी ली ही नहीं है। बाकियों को चलाने दो।’