मध्यप्रदेश: नीमच के आदिवासी युवक को वाहन से घसीट कर मारने वाले के खिलाफ पुलिस ने की कार्रवाई, बुलडोजर से ढहाया मकान

पुलिस ने इस मामले में अभी तक कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है और सभी आरोपियों के खिलाफ हत्या तथा एट्रोसिटी एक्ट की धाराएं लगाई गई है।

मध्यप्रदेश पुलिस ने आदिवासी युवक को वाहन से घसीटकर मारने के मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी महेंद्र गुर्जर के अवैध मकान को बुलडोजर से ढहा दिया। (फोटो – सोशल मीडिया)

मध्यप्रदेश के नीमच में आदिवासी युवक को वाहन से घसीटकर बेरहमी से मारने वाले दबंग आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी के मकान को बुलडोजर से ढहा दिया। मामूली विवाद में दबंगों ने आदिवासी युवक की पहले तो लाठी डंडों से पिटाई की और उसके बाद उसको वाहन से घसीटा था। जिसकी वजह से युवक की मौत इलाज के दौरान हो गई थी। मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हुआ था।

नीमच पुलिस ने आदिवासी युवक से बर्बरता के मामले में शामिल आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने इस मामले में अभी तक कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है और सभी आरोपियों के खिलाफ हत्या तथा एट्रोसिटी एक्ट की धाराएं लगाई गई है। साथ ही पुलिस ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी महेंद्र गुर्जर के अवैध मकान को बुलडोजर से ढहा दिया। पुलिस बाकी आरोपियों पर भी इसी तरह का शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है।

बता दें कि पिछले दिनों मध्यप्रदेश के नीमच में आदिवासी युवक कन्हैया लाल भील अपने दोस्त के साथ अथवा कलां गांव से गुजर रहा था। इसी दौरान सड़क से गुजर रहे बाइक सवार दूध वाले छीतर मल गुर्जर ने अपनी बाइक से कन्हैया लाल भील को टक्कर मार दी। टक्कर मारने की वजह से मोटरसाइकिल अनियंत्रित होकर गिर गई और उसपर लदा दूध भी सड़क पर फ़ैल गया। दूध गिरने की वजह से गुस्साए छीतर मल गुर्जर ने पहले तो कन्हैया लाल भील की पिटाई की।

इसके बाद भी जब उसका मन नहीं भरा तो छीतर मल गुर्जर ने अपने दोस्तों को बुलाकर उसके साथ मारपीट की और एक वाहन के पीछे बांधकर घसीटा। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। हैरान की बात यह है कि आरोपी घटना को अंजाम देते वक्त इसका वीडियो भी बना रहे थे। पीड़ित को गंभीर रूप से अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई।  

घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई की। पुलिस ने घटना में शामिल 8 लोगों को नामजद किया और वाहन चला रहे दो आरोपी चित्रमल गुर्जर और महेंद्र गुर्जर को गिरफ्तार कर लिया। बाद में पुलिस ने सभी 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। नीमच के कलेक्टर मयंक अग्रवाल और एसपी सूरज वर्मा ने मृतक कन्हैया लाल के घर पहुंच कर उसके परिजनों से मुलाकात भी की और उन्हें सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया।