महाराष्ट्र में कोरोना का कहर: मुंबई के वडाला क़ब्रिस्तान में पुराने शव निकाल कर दफ़नानी पड़ रही लाशें

मुंबई के वडाला सुन्नी कब्रिस्तान के बाहर इन दिनों एक बोर्ड लगा दिया गया है। जिसमें कहा गया है कि यहां जगह की कमी है। साथ ही इस बोर्ड  में यह भी लिखा गया कि यहां सिर्फ 1132 कब्रों की ही जगह है।

graveyard, maharashtra, mumbai

कोरोना की दूसरी लहर में महाराष्ट्र सबसे ज्यादा प्रभावित है। महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों में कमी होने के बावजूद मौतों की संख्या पर कोई असर नहीं पड़ा है। बड़ी संख्या में हो रही मौतों की वजह से महाराष्ट्र के वडाला में कब्रिस्तान के बाहर जगह की कमी वाला बोर्ड लगा दिया है। इतना ही नहीं यहां दफ़न किए गए पुराने शवों को बाहर निकालकर जगह बनाया जा रहा है ताकि आने वाले शवों का अंतिम संस्कार किया जा सके।

मुंबई के वडाला सुन्नी कब्रिस्तान के बाहर इन दिनों एक बोर्ड लगा दिया गया है। जिसमें कहा गया है कि यहां जगह की कमी है। साथ ही इस बोर्ड  में यह भी लिखा गया कि यहां सिर्फ 1132 कब्रों की ही जगह है। जिसमें से 128 बच्चों के लिए, 165 कोरोना संक्रमितों के लिए और 839 बाकी शवों के लिए हैं। बोर्ड में यह भी लिखा गया है कि बीते 18 महीने में यहां 1000 शव पहुंचे हैं जिसकी वजह से शवों को दफ़नाने के लिए जगह नहीं मिल पा रही है। शव को गलने में करीब 18 महीने का वक्त लगता है लेकिन नई कब्र बनाने के लिए 10-12 महीनों में ही शव निकाले जा रहे हैं।

कब्रिस्तान में जगहों की कमी को लेकर स्थानीय निवासी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि शव को करीब 18 महीने तक दफनाए रखना जरूरी होता है। लेकिन अब ये कब्रिस्तान भर चुका है। सरकार की तरफ एक कब्रिस्तान मिला है लेकिन अभी तक वह कमेटी के कब्जे में नहीं आया है। अगर वहां जल्दी से मंजूरी मिल जाती है तो वडाला कब्रिस्तान में ऐसी समस्या नहीं आएगी। कई बार तो लोगों को अपने स्वजनों के शव दफ़नाने के लिए काफी दूर के कब्रिस्तान में जाना पड़ता है। अगर जल्दी जगह नहीं मिल पाएगा तो शवों को कहां दफनाया जाएगा।  

 

बता दें कि महाराष्ट्र में 1 मई से 16 मई के बीच 11,871 मौतें हुईं। साथ ही 1 अप्रैल से 16 अप्रैल के बीच 4653 मौतें दर्ज हुई थीं। मई माह में महाराष्ट्र में मौतों की संख्या में 155% प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। सोमवार को भी करीब 516 लोगों की मौत इस महामारी की वजह से हो गई। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 26 हजार 616 नए केस सामने आए हैं।

 

पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 2,81,336 नए मामले सामने आए। जबकि 4106 लोगों की मौतें कोरोना महामारी की वजह से हो गई। नए मामले आने के साथ देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,49,65,463 हो गई है। जबकि मृतकों की कुल संख्या 2,74,390 हो चुकी है। आंकड़ों के अनुसार देश में अभी भी करीब 35 लाख मामले उपचाराधीन हैं।