मुझे लगा, वह मर जाएंगी- आर्यन खान के जन्म के वक्त खराब हो गई थी गौरी की तबीयत, हालत देख बच्चे को भूल गए थे शाहरुख खान

शाहरुख खान ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि आर्यन खान के जनम के वक्त गौरी खान की तबीयत काफी ज्यादा खराब हो गई थी।

shah rukh khan, gauri khan बॉलीवुड के मशहूर एक्टर शाहरुख खान और उनकी पत्नी गौरी खान (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

बॉलीवुड के किंग यानी शाहरुख खान और गौरी खान हिंदी सिनेमा की मशहूर जोड़ियों में से एक हैं। दोनों की मुलाकात पहली बार 1984 में हुई थी और 1991 में वे शादी के बंधन में बंधे थे। साल 1997 में गौरी खान ने अपने बड़े बेटे आर्यन खान को जन्म दिया था। लेकिन डिलीवरी के वक्त उनकी तबीयत इस कदर खराब हो गई थी कि उनकी हालत देखकर खुद शाहरुख खान भी घबरा गए थे। इतना ही नहीं, उन्हें लगने लगा था कि अब उनकी पत्नी नहीं बच पाएंगी।

गौरी खान से जुड़ी इस बात का खुलासा शाहरुख खान ने रेडिफ डॉट कॉम को दिए इंटरव्यू में किया था। शाहरुख खान ने इस सिलसिले में कहा था, “मैंने अस्पताल में ही अपने माता-पिता को खो दिया था, इसलिए मुझे वहां रहना बिल्कुल भी पसंद नहीं था। और गौरी की तबीयत भी काफी खराब हो गई थी।”

गौरी खान के बारे में बात करते हुए शाहरुख खान ने आगे बताया, “मैंने कभी भी उन्हें इस कदर बीमार नहीं देखा। जब मैंने उन्हें अस्पताल में देखा तो उनकी हालत काफी खराब हो रही थी। वह पूरी तरह से ठंडी पड़ चुकी थीं और बार-बार बेहोश हो रही थीं। मैं उनके सिजेरियन ऑपरेशन के लिए उनके साथ ऑपरेशन थिएटर में मौजूद था, लेकिन उन्हें देख मुझे लगा कि वह मर जाएंगी।”

शाहरुख खान ने गौरी खान की स्थिति का जिक्र करते हुए आगे बताया, “उस वक्त तो मैंने अपने होने वाले बच्चे के बारे में भी नहीं सोचा था, क्योंकि वह मेरे लिए जरूरी नहीं था। वह बुरी तरह से कांप रही थीं और जहां तक मुझे पता था कि बच्चे को जन्म देते वक्त मरते नहीं हैं, लेकिन फिर भी मैं थोड़ा डर गया था।”

सिमी गरेवाल के चैट शो पर गौरी खान ने बताया था कि बच्चे के जन्म के बाद शाहरुख खान ऑपरेशन थिएटर में रहकर ही फोटो खींचने लगे थे, ऐसे में वहां मौजूद डॉक्टर ने उन्हें डांट दिया था। वहीं शाहरुख खान ने बेटे के जन्म के वक्त को याद करते हुए बताया था, “मैं बस यह सोच रहा था कि इसे हटाओ, पहले मुझे मेरी पत्नी को देखना है कि वह ठीक है भी या नहीं।”