मुझे लेडीज पीती हुई अच्छी नहीं लगतीं- जब मीना कुमारी से अफेयर पर धर्मेंद्र ने दिया ऐसा जवाब; आखिरी वक्त तक नहीं छोड़ा था साथ

धर्मेंद्र और मीना कुमारी का प्यार किसी मुकाम तक नहीं पहुंच सका हालांकि धर्मेंद्र मीना कुमारी के अंतिम दिनों तक उनका साथ देते रहे।

meena kumari, dharmendra, meena kumari love story

बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा मीना कुमारी अपने दौर में फिल्मों के हीरो से ज्यादा रुतबा रखती थीं। खूबसूरती और अभिनय में उस दौर में उनके जैसा कोई दूसरा नहीं था। अन्य एक्ट्रेस की तुलना में उनकी फीस बहुत अधिक होती थी। इतना स्टारडम होने के बावजूद उनकी निजी ज़िंदगी में स्थिरता नहीं रही। उन्होंने प्यार तो किया लेकिन कोई हमेशा के लिए निभाने वाला नहीं मिला। बॉलीवुड की ‘ट्रेजेडी क्वीन’ शराब की लत के कारण भी कई परेशानियां झेलती रहीं और अंत में इसी शराब ने उनकी जान भी ली। मीना कुमारी की शादी मशहूर राइटर डायरेक्टर कमाल अमरोही से हुई थी। इस रिश्ते के टूटने के बाद मीना कुमारी और धर्मेंद्र के नजदीकियों की खबरें आईं।

धर्मेंद्र उन दिनों नए- नए फ़िल्म इंडस्ट्री में आए थे। कहा जाता है कि मीना कुमारी ने ही धर्मेंद्र को बॉलीवुड में आगे ले जाने में मदद किया। इस रिश्ते पर जब धर्मेंद्र से आपकी अदालत शो में रजत शर्मा ने सवाल पूछा कि फिल्म इंडस्ट्री में आपकी पहली मोहब्बत मीना कुमारी थीं तो उनका जवाब था, ‘नहीं, मोहब्बत नहीं, मैं तो उनका फैन था। वो बहुत बड़ी स्टार थीं और एक फैन की तरह मैं उन्हें देखता रहता था। अगर फैन और स्टार के रिलेशन को मोहब्बत कहते हैं तो उसे मोहब्बत समझिए।’

जब उनसे यह पूछा गया कि मीना कुमारी ने आपको पीना सीखा दिया तो धर्मेंद्र बोले, ‘नहीं, बिल्कुल नहीं। मुझे लेडीज़ पीती हुई अच्छी नही लगतीं। लेडीज़ के हाथ में गिलास अच्छा नहीं लगता। पता नहीं क्यों, महिलाओं की एक अपनी तस्वीर है मेरे मन में कि उनके हाथ में ये चीजें अच्छी नहीं लगती।’

धर्मेंद्र और मीना कुमारी का प्यार किसी मुकाम तक नहीं पहुंच सका। कहा जाता है कि जब मीना कुमारी बीमार रहने लगीं तब धर्मेंद्र अक्सर उनसे मिलने जाते थे। उनकी दोस्ती मीना कुमारी के अंतिम समय तक बनी रही।

मीना कुमारी और कमाल अमरोही के रिश्तों की बात करें तो मीना कुमारी कमाल अमरोही को एक मैगज़ीन में देखकर उन्हें पसंद करने लगीं थीं। लेकिन कमाल अमरोही उनमें कोई दिलचस्पी नहीं लेते थे। उनके बीच नजदीकी तब बढ़ी जब मीना कुमारी एक सड़क हादसे की चपेट में आ गईं और उन्हें पूना के अस्पताल में भर्ती करवाया गया। कमाल अमरोही मीना कुमारी को अस्पताल मिलने जाया करते थे और इसी दौरान उनके प्यार का सिलसिला चल पड़ा। दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन मीना के पिता ये कतई नहीं चाहते थे।

कमाल अमरोही की दो शादियां हुई थी और उनके 3 बच्चे भी थे। 14 फरवरी 1952 को मीना कुमारी ने अपने परिवार के खिलाफ जाकर गुपचुप तरीके से कमाल अमरोही से शादी कर ली। उनकी यह शादी करीब 12 सालों तक चली। कमाल अमरोही का रूढ़िवादी व्यवहार और हर तरीके से उन्हें कंट्रोल करना मीना कुमारी को बहुत चुभता था और इसी कारण दोनों 1964 में अलग हो गए।