मैं पापा के सामने रोती थी- जब बिहारी होने के कारण उड़ा मैथिली ठाकुर का मज़ाक, अंग्रेजी न आने पर दोस्त उड़ाते थे हंसी

मैथिली ठाकुर ने बताया कि जब वो दिल्ली आईं तब क्लास के बच्चे अंग्रेजी को लेकर उनका मजाक उड़ाते थे। इस बात को लेकर वो पिता के सामने रोतीं थीं।

maithili thakur, folk singer maithili thakur, maithili thakur news in hindi मैथिलि ठाकुर ने कम उम्र में ही काफी लोकप्रियता हासिल की है (Photo-Maithili Thakur/Instagram)

लोकगायिका मैथिली ठाकुर ने बेहद कम उम्र में ही अपनी पहचान बना ली है। अब वो भारत के अलावा विदेशों में भी अपने शोज़ करती हैं। बिहार की रहने वाली मैथिली जब दिल्ली आईं तब उन्हें कई दिक्कतें झेलनी पड़ी थीं जिसका जिक्र उन्होंने हाल ही में किया है।

बिहार तक को दिए एक इंटरव्यू में मैथिली ने बताया कि जब वो दिल्ली आईं और स्कूल में दाखिला लिया तब क्लास के बच्चे अंग्रेजी को लेकर उनका मजाक उड़ाते थे। उन्होंने बताया, ‘शुरुआत में मैं स्कूल नहीं जाती थी लेकिन जब देखा कि सभी बच्चे स्कूल जा रहे हैं तब मेरा एडमिशन हुआ छठे क्लास में। उसके बाद कुछ कुछ दिक्कतें आईं जैसे मुझे इंग्लिश में कुछ समझ नहीं आता था।’

उन्होंने आगे बताया, ‘मैं बिलकुल ब्लैंक होती थी जब टीचर पढ़ा रहे होते थे या जब बच्चे इंग्लिश में मुझसे कुछ पूछते थे। क्योंकि जब वो समझते थे कि मैं बिहार से हूं तो जानबूझ कर मुझसे इंग्लिश में बात करते थे कि मैं क्या जवाब देती हूं। मुझे याद है कि जब एक बार मैम ने मुझसे पूछा कि बेटा तुम्हारी बुक कहां हैं? मैंने कहा कि मैम मैं खोज रही हूं, मिल नहीं रहा। मेरी बात सुनकर पूरी क्लास हंसने लगी। बाद में मुझे पता चला कि इधर खोजना नहीं ढूंढना बोलते हैं।’

मैथिली ने बताया कि उन्होंने हिंदी में ही कई ऐसी चीजें सीखीं जो उनके लिए नई थीं। उन्होंने बताया, ‘मैंने खुद को सुधारना शुरू किया, पढ़ाई अच्छी की ताकि सबके सामने कॉन्फिडेंट रह पाऊं। स्कूल में मेरे साथ जो होता था उसके बारे में मम्मी को बताती थी, पापा के सामने रोती थी कि आज ये हुआ, वो हुआ। रोने पर पापा शांत कराते थे और कहते थे कि जो ऐसा बोलते हैं, उन्हें बोलने दो, अपना काम करो।’

मैथिली ने स्कूल में रहने के दौरान ही कई राज्य और राष्ट्रीय स्तर की सिंगिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लिया और जीत भी हासिल की। 10 साल की उम्र में मैथिली ने जागरण के गाना शुरू कर दिया था। उन्होंने जी टीवी के सिंगिंग रियलिटी शो, ‘सा रे गा मा पा, लील चैंप्स’ में हिस्सा लिया। मैथिली ठाकुर ने इंडियन आइडल जूनियर में भी हिस्सा लिया था।

मैथिली ठाकुर को राष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रियता तब मिली जब उन्होंने ‘राइजिंग स्टार’ के पहले सीजन में हिस्सा लिया। शो में उनके गायन को काफी प्यार मिला और वो शो की रनर अप रहीं।