“मैं फेल नेता हूं”, चुनावों में दीदी-स्टालिन के प्रचार में जान फूंक बोले PK- अब छोड़ रहा हूं ये काम

बंगाल चुनाव के परिणामों पर उन्होंने कहा कि भले ही यह अभी एकतरफा मुकाबला दिख रहा है लेकिन यह बेहद कड़ा मुकाबला था। हम बहुत अच्छा करने को लेकर आश्वस्त थे।

bengal, TMC

देश में चार राज्य और एक केंद्र शासित प्रदेश के लिए चल रहे मतगणना के बीच प्रशांत किशोर ने कहा है कि अब मैं चुनावी रणनीति बनाने के कार्य से अपने आप को अलग कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि अब वो यह जगह खाली कर रहे हैं। अब वह इस पेशे को छोड़ रहे हैं।

चुनाव रणनीतिकार पीके ने ‘इंडिया टुडे’ टीवी चैनल से कहा, वह ‘‘इस स्थान से हट रहे हैं’’ और आगे किसी दल के लिए रणनीति नहीं बनाएंगे। साथ ही उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मेरे लिए ब्रेक लेने और जीवन में कुछ और करने का समय है। मैं इस जगह को छोड़ना चाहता हूं। राजनीति में फिर से वापसी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि मैं मैं एक विफल नेता हूं, मैं वापस जाऊंगा और देखूंगा कि मुझे क्या करना है? प्रशांत किशोर की तरफ से ये बात उस समय कही गयी है जब उनके द्वारा बनाए गए रणनीति से बंगाल और तमिलनाडु में टीएमसी और डीएमके को जीत मिली है।

बंगाल चुनाव के परिणामों पर उन्होंने कहा कि भले ही यह अभी एकतरफा मुकाबला दिख रहा है लेकिन यह बेहद कड़ा मुकाबला था। हम बहुत अच्छा करने को लेकर आश्वस्त थे।प्रशांत किशोर से जब पूछा गया कि आपने यह फैसला क्यों लिया? जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि मैं कभी भी ये काम नहीं करना चाहता था। लेकिन मैं ये काम करने लगा और मैंने अपने हिस्से का काम कर लिया है। उन्होंने कहा कि आईपैक में मेरे से काफी ज्यादा काबिल लोग हैं। वो अच्छा काम करेंगे। इस कारण मुझे लगा कि अब मुझे ब्रेक ले लेना चाहिए।

प्रशांत किशोर ने चुनाव आयोग पर जमकर हमला बोला उन्होंने कहा कि भाजपा को धर्म का इस्तेमाल करने देने से लेकर मतदान कार्यक्रमों और नियमों में ढील देने तक में आयोग की तरफ से मदद की गयी। उन्होंने कहा कि इस तरह का पक्षपाती निर्वाचन आयोग कभी नहीं देखा, उसने भाजपा की मदद के लिए तमाम कदम उठाए।

जब उनसे पूछा गया कि चुनाव मैनेजमेंट का काम छोड़कर अब आप क्या करेंगे तो उन्होंने कहा कि कुछ समय दीजिए इसके बारे में सोचना पड़ेगा। पीके ने कहा कि मैं क्विट करने को लेकर काफी समय से सोच रहा था। लेकिन सही वक्त मुझे नहीं मिल रहा था। अब मुझे लगता है कि ये सही समय है।