यूपी: हमीरपुर में यमुना में तैरती दिखीं दर्जन भर लाशें, ग्रामीणों ने कोरोना से मरे लोगों को बहाया

हमीरपुर और कानपुर के कुछ इलाकों में यमुना नदी को मोक्ष दाहिनी कालिंदी के रूप में माना जाता है। जिसकी वजह से कुछ लोग अपने स्वजनों के शव को यमुना नदी में बहा देते हैं।

yamuna, river, UP

कोरोना संक्रमण की मार झेल रहे उत्तरप्रदेश के हमीरपुर से काफी डरावनी और चौंकाने वाली तस्वीर सामने आई है। हमीरपुर में यमुना नदी के आसपास के ग्रामीणों ने कोरोना संक्रमण के डर से मृतकों के शरीर को नदी में ही बहा दिया। दर्जनों शव को नदी में बहता देख आसपास के लोग सकते में आ गए। जिसके बाद लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस फिलहाल इस मामले की जांच कर रही है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हमीरपुर और कानपुर के कुछ इलाकों में यमुना नदी को मोक्ष दाहिनी कालिंदी के रूप में माना जाता है। जिसकी वजह से कुछ लोग अपने स्वजनों के शव को यमुना नदी में बहा देते हैं। पहले नदी में एक दो शव ही बहते हुए देखे जाते थे लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच यहां नदी में काफी शव देखने को मिल रहे हैं। कहा जा रहा है कि ग्रामीण इलाकों में लोग कोरोना संक्रमण के डर के चलते कई शवों को बिना जलाए हुए ही बहा दे रहे हैं।

यमुना नदी में दर्जन शवों के बहने की सूचना पर हमीरपुर के अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कानपुर की सीमा की तरफ से एक ट्रैक्टर में दो शवों का लाकर उनका यमुना नदी में अंतिम संस्कार किया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि कुछ और शव पहले से भी यमुना में बह रहे थे। कई शव कानपुर आउटर की तरफ से बहते हुए चले आ रहे हैं। इसलिए कानपुर नगर के संबंधित थाना क्षेत्र को निर्देशित कर जांच करने के निर्देश दे दिए गए हैं।

हमीरपुर जिले में बहने वाली यमुना नदी का उत्तरी किनारा कानपुर में लगता है और दक्षिणी किनारा हमीरपुर में लगता है। यमुना नदी कानपुर और हमीरपुर जिलों की सीमा रेखा के रूप में बहती है। हालांकि पुलिस ने अभी तक यह जानकारी नहीं दी है कि आखिर नदी में बह रहे शवों की मौत किस वजह से हुई है।

उत्तरप्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 28,076 मामले सामने आए हैं। नए मामले सामने आने के बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या 14,53,679 हो गई है. वहीं पिछले 24 घंटे में कुल 372 लोगों की मौत हो गई। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में 1,982 नए संक्रमित केस मिले हैं और 25 लोगों की मौत हो गई है।