यूपी-हरियाणा के जिला अस्पतालों में प्रति एक लाख आबादी पर मात्र 13 बेड, बिहार में तो बस छह, इन राज्यों का भी है बुरा हाल

नीति आयोग के इस अध्ययन में पता चला है कि देशभर में एक लाख आबादी पर औसतन 24 बेड्स ही जिला अस्पतालों में उपलब्ध हैं। इसमें सबसे खराब स्थिति बिहार की है, पुडुचेरी की सबसे बेहतर है।

corona virus तस्वीर अहमदाबाद के एक अस्पताल की है जिसका सांकेतिक इस्तेमाल किया गया है। (पीटीआई)

केंद्र सरकार के शीर्ष थिंक टैंक नीति आयोग द्वारा किए गए एक अध्ययन से पता चला है कि देश के सरकारी अस्पतालों में लोगों के लिए बेड्स की काफी कमी है। अध्ययन में सामने आया है कि देश के जिला अस्पतालों में एक लाख आबादी पर औसतन 24 बेड्स ही उपलब्ध हैं। इसमें सबसे खराब स्थिति बिहार की है, पुडुचेरी की सबसे बेहतर है।

बिहार में सरकारी अस्पतालों में यह औसतन संख्या मात्र 6 है, जबकि पुडुचेरी में 222 पाई गई है। ‘जिला अस्पतालों के कामकाज में बेहतर गतिविधियों’ को लेकर नीति आयोग की रिपोर्ट से जानकारी मिली है कि कुछ खास सेवाओं के तहत देश के 24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 75 जिला अस्पतालों का परफॉर्मेंस काफी अच्छा पाया गया है।

इन राज्यों की हालत खराब: अगर राज्यवार आकंड़ों पर गौर करें तो इसमें नीति आयोग के मुताबिक 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में, प्रति 1 लाख जनसंख्या पर 22 बेड्स से भी कम है। इसमें बिहार(6), झारखंड (9), तेलंगाना(10), उत्तर प्रदेश(13), हरियाणा(13), महाराष्ट्र(14), जम्मू और कश्मीर(17), असम(18), आंध्र प्रदेश(18), पंजाब(18), गुजरात(19), राजस्थान(19), पश्चिम बंगाल(19), छत्तीसगढ़(20) और मध्य प्रदेश में यह संख्या 20 है।

नीति आयोग ने अपने इस अध्ययन में अस्पतालों बेड्स की उपलब्धता, मरीजों के लिए जांच सुविधा, पैरामेडिकल स्टाफ के साथ ही मेडिकल स्टाफ की संख्या, चिकित्सा के लिए डॉक्टरों की उपलब्धता को आधार बनाया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस अध्ययन के आधार पर पता चला है कि मौजूदा हालात में देशभर में एक लाख की आबादी पर औसतन 24 बिस्तर ही जिला अस्पतालों में मौजूद है।

बता दें कि अध्ययन के लिए देशभर के कुल 707 जिला अस्पतालों इसका हिस्सा बनाया गया, जिसमें 2017-18 के स्वास्थ्य प्रबंधन सूचना प्रणाली (एचएमआईएस) के आंकड़ों को आधार बनाया गया। आंकड़ों में यह पाया गया कि, कुछ अस्पताल ऐसे भी रहे कि, जहां एक लाख की आबादी पर औसतन 22 बेड्स ही मौजूद हैं।