ये बहानेबाजी यहां नहीं चलेगी-KBC के मंच पर न आने के बहाने ढूंढने लगे पंकज त्रिपाठी, क्रू मेंबर ने मारा धक्का तो पहुंचे अंदर

अमिताभ बच्चन जब शो में अनाउंस करते हैं कि पंकज त्रिपाठी जी तशरीफ लाने वाले हैं, लेकिन स्टेज पर कोई नहीं आता। ऐसे में अमिताभ बच्चन खुद पंकज त्रिपाठी को बैकस्टेज बुलाने जाते हैं।

Pankaj Tripathi, Amitabh Bachchan, KBC 13, केबीसी 13 में इस ‘शानदार शुक्रवार’ आ रहे हैं पंकज त्रिपाठी और प्रतीक गांधी (फोटो सोर्स- सोनी इंस्टा)

शो कौन बनेगा करोड़पति सीजन 13 के शानदार शुक्रवार में इस बार पंकज त्रिपाठी और प्रतीक गांधी आने वाले हैं। ऐसे में अमिताभ बच्चन के साथ प्रतीक और पंकज त्रिपाठी की अनलिमिटेड मस्ती चलेगी। शो से एक प्रोमो सामने आया है जिसमें पंकज त्रिपाठी और प्रतीक गांधी दोनों ही केबीसी के मंच पर जाने से घबराते हुए दिखते हैं।

ऐसे में अमिताभ बच्चन जब शो में अनाउंस करते हैं कि पंकज त्रिपाठी जी तशरीफ लाने वाले हैं, लेकिन स्टेज पर कोई नहीं आता। ऐसे में अमिताभ बच्चन खुद पंकज त्रिपाठी को बैकस्टेज बुलाने जाते हैं। जब अमिताभ बच्चन बैकस्टेज पहुंचते हैं तो नजारा देखते हैं कि पंकज के साथ प्रतीक गांधी भी हैं औऱ वह दोनों ही स्टेज पर आने से डर रहे हैं। वजह है केबीसी गेम के सवाल।

अमिताभ बच्चन बैकस्टेज में डरे सहमें खड़े पंकज और प्रतीक से कहते हैं- अरे भाईसाब आप यहां खड़े हैं? हम जनता के सामने आपना नाम अनाउंस कर दिए हैं। चलिए ना।’ ऐसे में प्रतीक और पंकज दोनों ही बहाने बनाने लगते हैं। प्रतीक कहते हैं- सर वो मैंने चटनी थोड़ी ज्यादा खाली थी। इसलिए पेट गड़बड़ है। वहीं पंकज त्रिपाठी भी बहाना लगाते हैं औऱ कहते हैं- ‘राहुकाल चल रहा है तो प्रश्न काल में न ले जाएं।’

ऐसे में अमिताभ कहते हैं कि देखिए ये सब बहानाबाजी यहां नहीं चलेगा। चलो भैया इनको लेकर आओ, जनता के सामने हमने अनाउंसमेंट कर दिया है। अब पंकज औऱ प्रतीक जाने का नाम नहीं लेते। लेकिन क्रू मेंबर दोनों को आथ पकड़ कर लाने की कोशिश करते हैं। ऐसे में अचानक दोनों को धक्का लगता है और पंकज त्रिपाठी और प्रतीक गांधी दोनों हॉटसीट के पास पहुंच जाते हैं।

दोनों घबराए हुए आसपास देखते हैं, तभी अमिताभ बच्चन पंकज और प्रतीक का स्वागत करते हैं। इस वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा गया है-‘पंकज और प्रतीक दोनों हैं केबीसी के मंच पर आने के लिए नर्वस। देखिए कैसे अमिताभ बच्चन सर करते हैं उनका ये डर दूर।’