राजकुमार के एक सवाल पर सुभाष घई की सिट्टी पिट्टी हो गई थी गुम; लेजेंड एक्टर ने बताया था अपने बाद किसको मानते हैं नंबर 1

एक बार फिल्म डायरेक्टर सुभाष घई लेजेंड राजकुमार के पास एक फिल्म का ऑफर लेकर गए। जब उन्होंने राजकुमार को फिल्म की स्क्रिप्ट सुनाई तो वह कहानी सुन…

70 से 80 के दशक में सिनेमाप्रेमियों के दिलों पर राज करने वाले राजकुमार फिल्मी पर्दे पर जो तेवर दिखाते थे, असल जिंदगी में भी वह ठीक वैसे ही थे। एक बार फिल्म डायरेक्टर सुभाष घई लेजेंड राजकुमार के पास एक फिल्म का ऑफर लेकर गए। जब उन्होंने राजकुमार को फिल्म की स्क्रिप्ट सुनाई तो वह कहानी सुन बहुत खुश हुए थे और फिल्म में काम करने के लिए झट से मान गए थे।

सुभाष घई के लिए ये काम तो आसान था लेकिन अभी उनकी बात पूरी नहीं हुई थी। दरअसल, फिल्म में राजकुमार के अलावा एक और एक्टर थे। और उस रोज खबरें थीं कि दोनों कलाकारों के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। ये एक्टर कोई और नहीं बल्कि दिलीप कुमार थे। दिलीप कुमार और राजकुमार को लेकर उस वक्त ‘मनमुटाव’ वाली खबरें चल रही थीं।

ऐसे में सुभाष घई सहमें हुए थे कि अभी तो राजकुमार को उपने पार्ट के बारे में पता है जब वह फिल्म के दूसरे हीरो के बारे में जानेंगे तो कैसे रिएक्ट करेंगे? इतने में राजकुमार ने ही सुभाष घई से ये सवाल कर लिया कि फिल्म में दूसरा पार्ट कौन प्ले कर रहा है। ये फिल्म थी सौदागर। सुभाष घई की फिल्म स्क्रिप्ट दो दोस्तों की कहानी थी। ऐसे में राजकुमार ने जब दूसरे किरदार के बारे में जानकारी ली तो सुभाष घई की सिट्टी पिट्टी गुम हो गई।

थोड़ा डरते हुए उन्होंने बताया कि दूसरे रोल में DILIP KUMAR हैं। राजकुमार उस वक्त कुछ देर के लिए चुप हो गए और फिर बोले ‘ठीक है’। सुभाष घई राजकुमार के इस अंदाज को देखते रह गए। राजकुमार ने उस वक्त कहा- ‘ये रोल वही करें तो ठीक हैं। इस किरदार में  दिलीप कुमार ही अच्छे लगेंगे। ये रोल उन्हें ही सूट करेंगा।’ राजकुमार और दिलीप कुमार साथ काम करेंगे तो फ़िल्म नहीं बन सकती- कहते थे लोग; इस तरह दो दिग्गजों को साथ लाए थे सुभाष घई

राजकुमार ने सुभाष घई से आगे कहा था कि अपने बाद अगर वह किसी और को बेहतरीन एक्टर मानते हैं तो वो हैं दिलीप कुमार। हालांकि जब फिल्म की शूटिंग शुरू हुई तब भी राजकुमार और दिलीप कुमार की बातचीत  नहीं होती थी। बस दोनों अपने आपने सीन करते थे।