रामायण में रावण ने भी फकीर बनकर ही धोखा दिया था- बॉलीवुड एक्टर ने नरेंद्र मोदी सरकार पर कसा तंज़, आने लगे ऐसे कमेंट्स

बॉलीवुड एक्टर कमाल आर खान (KRK) ने नरेंद्र मोदी सरकार पर धोखा देने का आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा कि रामायण में रावण ने भी फ़क़ीर बनकर ही धोखा दिया था।

narendra modi, covid 19 india, Kamaal R khan

भारत में कोविड 19 को लेकर जो भयावह स्थिति बनी हुई है उसे लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार निशाने पर है। लोग ऑक्सीजन, दवाइयों, इलाज के अभाव में दर-दर भटक रहे हैं। कई राज्यों में कोविड की वैक्सीन भी नहीं मिल रही। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तो एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए स्पष्ट कर दिया है कि दिल्ली में वैक्सीन नहीं है, इसलिए लोग वैक्सीन के लिए इंतजार करें। वहीं बीजेपी की सरकार यह कहती रही है कि देश में स्वास्थ्य सुविधाओं और वैक्सीन को कोई कमी नहीं है। इसी बात पर सोशल मीडिया के जरिए लोग अपना गुस्सा भी निकाल रहे हैं। बॉलीवुड एक्टर कमाल आर खान (KRK) ने भी नरेंद्र मोदी सरकार पर धोखा देने का आरोप लगाया है।

उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, ‘दोस्तों रामायण पढ़ोगे तो पता चलेगा कि रावण ने भी फकीर बनकर ही धोखा दिया था।’ नरेंद्र मोदी सरकार पर उनके इस तंज से कई यूजर्स उनके पक्ष में दिखे तो कई लोगों ने अपनी असहमति भी जताई है।

चिराग राठौड़ नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘बात सही है, समझने वालों के लिए इशारा काफी है..समझ जाए तो अच्छा है।’ आयुष अमृत नाम के यूजर ने केआरके पर तंज कसते हुए लिखा, ‘सही बात! वैसे रामायण से एक और सीख मिलती है, जय श्रीराम का नाम सुनते ही राक्षस क्रोधित हो जाते हैं।’

जगदीश प्रसाद नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘ऐसे ही रामायण पढ़ते रहो, जिंदगी संवर जाएगी।’ जयेश भुत्रा नाम से एक ट्विटर यूजर लिखते हैं, ‘और ये भी पता चलेगा कि रावण परम ज्ञानी, सिद्ध पुरुष, शिव भक्त, उच्चतम राजा था।’ एनोनिमस नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘बाबर भी फकीर बनकर ही भारत आया था।’

बहरहाल, कोविड के वैक्सिनेशन को लेकर केंद्र सरकार कटघरे में है। सरकार ने यह ऐलान किया था कि देश भर में 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। लेकिन कई राज्य सरकारें यह कह रही हैं कि इस चरण का टीकाकरण 1 मई से शुरू नहीं हो पाएगा क्योंकि उनके पास वैक्सीन नहीं है।

खबर है कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड आदि राज्यों में यह टीकाकरण अभियान शनिवार से शुरू नहीं हो पाएगा। इधर दिल्ली की तरह ही कर्नाटक सरकार ने लोगों से अपील की है कि लोग वैक्सीन के लिए अस्पताल न आएं, जैसे ही वैक्सीन की आपूर्ति होगी, लोगों को जानकारी दी जाएगी।