राम मंदिरः अयोध्या के महंत ने चंपत राय समेत ट्रस्ट के सदस्यों पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप, बोले- लोगों को धोखा दिया जा रहा

अयोध्या में निर्वाणी अखाड़े के महंत धरम दास ने मंदिर का निर्माण कर रहे राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों पर जमीन की खरीदी में फ्रॉड करने का आरोप लगया है। महंत ने बुधवार को मांग कि कि अयोध्या में धर्मगुरुओं को धर्मस्थल चलाने की जिम्मेदारी दी जाए। दास ने मंगलवार को राम जन्मभूमि थाने में ट्रस्ट के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

Ayodhya mahant, Ayodhya temple, Ram Temple Trust,ayodhya land deal, UP news, UP latest news, india news, महंत धरम दास ने राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। (Express Photo)

राम मंदिर निर्माण शुरू होते ही एक बार फिर विवादों में आ गया है। अयोध्या में निर्वाणी अखाड़े के महंत धरम दास ने मंदिर का निर्माण कर रहे राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों पर जमीन की खरीदी में फ्रॉड करने का आरोप लगया है। महंत ने कहा कि ट्रस्ट के सदस्यों ने लोगों और राम भक्तों की भावना के साथ खेला है और उन्हें धोका दिया है।

महंत ने बुधवार को मांग कि कि अयोध्या में धर्मगुरुओं को धर्मस्थल चलाने की जिम्मेदारी दी जाए। दास ने मंगलवार को राम जन्मभूमि थाने में ट्रस्ट के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। अपनी शिकायत में उन्होंने ट्रस्ट के सभी सदस्यों और पदाधिकारियों का नाम लिया, जिनमें महासचिव चंपत राय और सदस्य अनिल मिश्रा, अयोध्या के मेयर के भतीजे दीप नारायण, राम बल्लभकुंज के राजकुमार दास और सब-रजिस्ट्रार एसबी सिंह शामिल हैं। पुलिस ने कहा कि उन्हें शिकायत मिली है लेकिन अभी तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है।