राहुल गांधी के अलावा वे दो लोग, जो पार्टी के अध्यक्ष बन सकते हैं? कांग्रेस नेता से पूछ बैठे न्यूज ऐंकर, मिला ये जवाब

राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने की संभावनाओं पर न्यूज ऐंकर ने कांग्रेस नेता से सवाल किया कि उनके अलावा दो लोग कौन पार्टी के अध्यक्ष बन सकते हैं।

rahul gandhi, congress कांग्रेस नेता राहुल गांधी। (एक्सप्रेस फोटो)।

कांग्रेस पार्टी में मचे घमासान के बीच राहुल गांधी के एक बार फिर से अध्यक्ष बनने की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। सीडब्ल्यूसी की बैठक में पंजाब सहित राजस्थान व अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से पार्टी की कमान संभालने की बात कही। कांग्रेस पार्टी में मची इस घमासान को लेकर आज तक के ‘हल्ला बोल’ में भी चर्चा की गईं, जहां न्यूज ऐंकर ने कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत से सवाल किया कि राहुल गांधी के अलावा दो लोग ऐसे जो पार्टी की कमान संभाल सकते हैं?

न्यूज ऐंकर सईद अंसारी ने कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत से सवाल करते हुए कहा, “आप यह जरूर कह सकती हैं कि राहुल गांधी के नाम का प्रस्ताव हुआ है या नहीं भी हुआ है तो कांग्रेसियों की इच्छा है कि वह अध्यक्ष बनें। लेकिन हमारा प्रश्न आपसे यह है कि क्या आप राहुल गांधी के अलावा दो नाम और ऐसे बता सकती हैं जो पार्टी के अध्यक्ष बन सकते हैं और अगर राहुल गांधी नहीं तो उनमें से कोई और अध्यक्ष बन जाए?”

न्यूज ऐंकर की बातों का जवाब देते हुए कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा, “मुझे ऐसा लगता है कि मैं चैनल पर ढोंग करने के लिए नहीं आई हूं। अगर मैं अपने गृह क्षेत्र महाराजगंज में जाकर 100 लोगों से पूछती हूं कि आपका नेता कौन है? और वो 100 में से 100 लोग राहुल गांधी कहते हैं तो मैं फैशनेबल बनकर किसी और का नाम क्यों बताऊं। मुझे लगता है कि मैं उन लोगों के साथ विश्वासघात करती हूं।”

सुप्रिया श्रीनेत ने अपनी बात को बढ़ाते हुए आगे कहा, “वो लोग अपना नेता राहुल गांधी को मानते हैं, जैसे मैं मानती हूं। दूसरी बात कि आप लोग बार-बार एक शब्द का प्रयोग कर रहे थे, आंतरिक कलह कह रहे थे। इसको आंतरिक लोकतंत्र भी कहा जाता है, जिसके बारे में नागपुर के रिमोट कंट्रोल से चलने वाली भाजपा नहीं जान पाएगी।”

सुप्रिया श्रीनेत ने अपनी बातों में वरुण गांधी का भी जिक्र किया और कहा, “वरुण गांधी ने किसानों के कुचलने पर कुछ बोल दिया तो उनको और उनकी माताजी को नेशनल एग्जिक्यूटिव से निकालकर बाहर कर दिया गया। सुब्रमण्यम स्वामी ने भी ध्वस्त अर्थव्यवस्था पर सवाल उठाया तो उन्हें भी निकालकर बाहर कर दिया गया।”

सुप्रिया श्रीनेत ने अपने बयान में आगे कहा, “ये पीड़ा तो सबसे ज्यादा आडवाणी जी, मुरली मनोहर जोशी जी, यशवंत सिन्हा जी, अरुण शौरी जी, शत्रुघ्न सिन्हा जी जानते हैं कि कैसे उनके खिलाफ अगर आप बोल देंगे तो आपको मेंटल कोमा घोषित करके एक मंडल में डाल दिया जाएगा।”