रॉस टेलर का कैच छोड़ना चेतेश्वर पुजारा को पड़ेगा भारी? विराट कोहली ने कहा- टेस्ट में टीम में होगा बदलाव

सीनियर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 54 गेंद में आठ रन बनाए और अपने पहले रन के लिए 35 गेंद खेली। उसके बाद दूसरी पारी में 80 गेंद में 15 रन बनाए। बाद में उन्होंने रॉस टेलर का आसान कैच भी टपका दिया।

न्यूजीलैंड ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत को हराया। (फोटो- ट्विटर)

न्यूजीलैंड के हाथों वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में मिली हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट टीम में बदलाव के संकेत देते हुए कहा कि प्रदर्शन की समीक्षा की जाएगी। इसके बाद सही लोगों को लाया जाएगा जो अच्छे प्रदर्शन के लिए सही मानसिकता के साथ उतरें। भारतीय बल्लेबाजों ने फाइनल में निराश किया जिससे टीम को आठ विकेट से हार झेलनी पड़ी। कोहली ने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन कहा कि कुछ खिलाड़ी रन बनाने का जज्बा ही नहीं दिखा रहे हैं।

सीनियर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 54 गेंद में आठ रन बनाए और अपने पहले रन के लिए 35 गेंद खेली। उसके बाद दूसरी पारी में 80 गेंद में 15 रन बनाए। बाद में उन्होंने रॉस टेलर का आसान कैच भी टपका दिया। ऐसे में कोहली के बयान के बाद यह माना जा रहा है कि टीम से उनका पत्ता कट सकता है। कोहली ने मैच के बाद ऑनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कहा,‘‘हम आत्ममंथन करते रहेंगे और इस पर बात होती रहेगी कि टीम को मजबूत बनाने के लिये क्या करना चाहिए। एक ही ढर्रे पर नहीं चलेंगे।’’

समझा जाता है कि कुछ सीनियर खिलाड़ियों को समय दिया जाएगा और इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करके ही वे टीम में अपनी जगह बचा सकेंगे। उन्होंने कहा,‘‘हम एक साल तक इंतजार नहीं करेंगे। आप हमारी सीमित ओवरों की टीम देखें तो हमारे पास गहराई है और खिलाड़ी आत्मविश्वास से भरे हैं। टेस्ट क्रिकेट में भी इसकी जरूरत है। हमें नए सिरे से समीक्षा करके योजना बनानी होगी और यह समझना होगा कि टीम के लिये क्या असरदार है और हम कैसे बेखौफ खेल सकते हैं। सही लोगों को लाना होगा जो अच्छे प्रदर्शन की सही मानसिकता के साथ उतरें।’’

कोहली ने कहा,‘‘खेल में अपने प्रदर्शन में लगातार सुधार जरूरी है। खासकर जब आप लगातार कई साल से नंबर एक टीम हैं तो अचानक आपका स्तर नहीं गिर सकता। हम ये फैसले लेंगे और इस पर बात करेंगे।’’ उन्होंने न्यूजीलैंड जैसे शानदार गेंदबाजी आक्रमण के सामने रन बनाने के बारे में भी बात की । उन्होंने कहा,‘‘हमें इस पर काम करना होगा कि रन कैसे बनाये जाएं। हमें मैच को अपने हाथ से निकलने नहीं देना है। मुझे नहीं लगता कि कोई तकनीकी परेशानी है।’’