लक्ष्य बनाकर करें नई विधा को सीखने की कोशिश

नई विधाओं को सीखना आज की जरूरत बन गई है। करिअर में आगे बढ़ने के लिए नई भाषा से लेकर नई तकनीक को सीखने की आवश्यकता होती है लेकिन हमारे सीखने की आदत इसमें हमेशा बाधा बनती हैं।

Technology

नई विधाओं को सीखना आज की जरूरत बन गई है। करिअर में आगे बढ़ने के लिए नई भाषा से लेकर नई तकनीक को सीखने की आवश्यकता होती है लेकिन हमारे सीखने की आदत इसमें हमेशा बाधा बनती हैं। हम लगातार कुछ विधाओं में पारंगत होने की कोशिश करते हैं लेकिन कई वजहों से सफल नहीं हो पाते हैं। किसी भी चीज को सीखने के लिए सबसे पहले हमें अपना लक्ष्य तय करना होगा। यानी जो नई चीज या विधा आप सीखना चाहते हो, उसका क्या लाभ होगा? आप इसी विधा को क्यों सीखना चाहते हैं? ये सवाल आपको लक्ष्य के प्रति समर्पित करेंगे और आपके सीखने की प्रक्रिया तेज हो जाएगी।

ध्यान भंग करने वाली चीजों से बनाएं दूरी : मोबाइल, सोशल मीडिया और ई-मेल में लगातार आने वाली नोटिफिकेशंस लोगों का ध्यान भंग करती हैं। बहुत सारे लोग हर दस मिनट पर ई-मेल चेक करते हैं, हर दो मिनट पर वाट्सऐप, फेसबुक, इंस्टाग्राम या ट्विटर को देखते हैं और उसके बाद इसके लिए खुद को गुनहगार समझते हैं। इस तरह की चीजें हीं लोगों का ध्यान भटकाती हैं और उन्हें अपने लक्ष्य तक पहुंचने में बाधा बनती हैं। इसलिए जितना अधिक हो सके इन चीजों से दूरी बनाए रखें।

काम अभी शुरू करें :
किसी भी कार्य को करने से पहले हम उसके बारे में पढ़ते हैं, इंटरनेट पर उसके बारे में शोध करते हैं और अकसर पढ़ने के बाद उस पर अमल नहीं करते। इसके लिए दो तिहाई का नियम भी बनाया गया जिसके मुताबिक हमें एक तिहाई समय पढ़ने और दो तिहाई समय उस पर अमल करने पर लगाना चाहिए। इससे नई चीज या विधा को सीखने में तेजी आएगी।

छोटे टुकड़ों में कार्य को बांटे : किसी भी कार्य को पूरा करने के लिए छोटे-छोटे कार्य पूरा करने होते हैं। सबसे पहले जिस चीज या विधा को सीखना चाहते हैं, उसे छोटे-छोटे भागों बांट लेना चाहिए और फिर एक-एक भाग को पूरा कर आगे बढ़ना चाहिए। इससे धीरे-धीरे आप अपना लक्ष्य पा लेंगे।

प्रतिबध रहें : नई विधा सीखने के लिए आपको लंबे समय तक के लिए प्रतिबद्ध होना होगा। कम समय में किसी विधा में पारंगत होने की संभावना कम ही होती है। आपकी प्रतिबद्धता ही आपको नई विधा सीखने के लक्ष्य के करीब तक ले जाएगी।