लखीमपुरी कांड पर आमने-सामने आए राकेश टिकैत और अजय मिश्रा: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री बोले- पहले किसानों ने किया पथराव, BKU नेता ने कहा- इस्तीफा दो

किसान नेता राकेश टिकैत के निशाने पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा आ गए। एक चैनल पर दोनों का आमना सामना हुआ तो दोनों तरफ से एक दूसरे पर जमकर आरोप लगाए गए।

Rakesh Tikait Ajay Mishra अजय मिश्रा (दाएं), राकेश टिकैत (बाएं)। Source- Indian Express

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के दौरे को लेकर किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान रविवार को लखीमपुर खीरी में भड़की हिंसा में 6 लोगों की मौत हो गई है। इस घटना के बाद देश का सियासी पारा चढ़ गया है। किसान नेता राकेश टिकैत के निशाने पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा आ गए। एक चैनल पर दोनों का आमना सामना हुआ तो दोनों तरफ से एक दूसरे पर जमकर आरोप लगाए गए। BKU नेता राकेश टिकैत ने कहा कि इस घटना से बीजेपी का असली चेहरा सबके सामने आ गया है तो वहीं अजय मिश्रा ने दावा किया कि किसानों की तरफ से पहले पथराव किया गया और अब टिकैत आरोपियों को संरक्षण दे रहे हैं।

समाचार चैनल आजतक में डिबेट कार्यक्रम के दौरान दोनों नेताओं की बातचीत हुई। इस दौरान राकेश टिकैत ने कहा कि आप केंद्रीय गृहराज्य मंत्री हैं तो क्या आपका बेटा प्रदर्शनकारियों पर गाड़ी चढ़ा देगा, उन्होंने कहा कि नैतिकता के आधार पर आपको अपना इस्तीफा देना चाहिए तो वहीं अजय मिश्रा ने दावा किया कि हमारे ड्राइवर समेत कई कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई। किसान, कार को ढकेलना चाहते थे, अगर उस वक्त मेरा बेटा वहां रहता तो उसे मार डालते, उन्होंने यह भी दावा किया कि हमारे पास पूरी घटना का वीडियो है।

गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की कार पर पथराव किया गया जिससे वाहन पलट गया, दो लोगों की इसमें दबकर मौत हो गई, इसके बाद भाजपा कार्यकर्ताओं की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।

देशभर में तेज होगा प्रदर्शन: संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने सोमवार को देशभर में जिलाधिकारियों और आयुक्तों के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करने का आह्वान किया है। रविवार की घटना पर विरोध जताने के लिए SKM ने सोमवार को देशभर में सुबह 10 बजे से अपराह्न एक बजे तक सभी जिलाधिकारियों और आयुक्तों के दफ्तरों के बाहर प्रदर्शन करने की अपील की है। किसान नेता योगेंद्र यादव और दर्शन पाल सिंह ने घटना की जांच उत्तर प्रदेश प्रशासन के बजाय सुप्रीम कोर्ट के पदस्थ जस्टिस से कराने की मांग की है। किसान नेताओं ने आरोप लगाया कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा का बेटा कथित रूप से घटना को अंजाम देने वाली एक एसयूवी कार में सवार था।

क्या है पूरा मामला: लखीमपुर खिरी के तिकोनिया-बनबीरपुर मार्ग पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के दौरे के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कृषि कानून विरोधी प्रदर्शनकारियों के एक गुट से दो SUV के कथित रूप से टकरा जाने के बाद हिंसा भड़क गई। प्रदर्शनकारियों को कुचले जाने की घटना से नाराज लोगों ने कथित तौर पर दो गाड़ियों को जबरन रोककर उनमें आग लगा दी। उन्होंने कथित तौर पर कुछ यात्रियों की भी पिटाई की है। किसान मौर्य के बनबीरपुर दौरे का विरोध कर रहे थे जो केंद्रीय गृह राज्य मंत्री और खीरी से सांसद अजय कुमार मिश्रा का पैतृक गांव है।