लखीमपुर खीरी जा रहे पंजाब के डिप्टी सीएम सहारनपुर में अरेस्ट, सिद्धू बोले- गिरफ्तारी उनकी हो जिन्होंने किसानों पर चढ़ाई गाड़ियां

पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा समेत ये सभी नेता हिंसा में जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों से मिलने यूपी के लखीमपुर खीरी जा रहे थे। लेकिन इन्हें हिरासत में ले लिया गया।

Lakhimpur Violence लखीमपुर खीरी जा रहे पंजाब के डिप्टी सीएम सहारनपुर में अरेस्ट किए गए। (फोटो-ANI)

पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा और कांग्रेस नेता कुलजीत नागरा को अन्य पार्टी के नेताओं के साथ सहारनपुर में हिरासत में लिया गया है। ये सभी नेता हिंसा में जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों से मिलने यूपी के लखीमपुर खीरी जा रहे थे।

वहीं चंडीगढ़ में कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि लखीमपुर में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे किसानों पर वाहन चलाने वालों को गिरफ्तार किया जाए और हरियाणा के सीएम एमएल खट्टर के बयान के लिए देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

बता दें कि यूपी के लखीमपुर में हुई हिंसा पर देश के कई राज्यों में विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया है। कांग्रेस, सपा, टीएमसी ने इस घटना की निंदा करते हुए कार्रवाई की मांग की है। वहीं राज्य सरकार, विपक्ष पर इस मामले को लेकर सख्ती दिखा रही है।

पहले यूपी पुलिस ने किसानों से मिलने के लिए लखीमपुर गईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया, फिर सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ भी यही कार्रवाई की। अखिलेश यादव को पुलिस ने उनके घर के बाहर ही रोक लिया।

इसके बाद ये खबर भी सामने आई थी कि परमीशन नहीं मिलने के बाद भी पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी लखीमपुर के लिए निकल गए हैं। पुलिस ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी को भी लखनऊ में ना उतरने देने का आदेश जारी किया है।

वहीं पंजाब, हरियाणा, कर्नाटक, उत्तरप्रदेश समेत देश के कई हिस्सों में इस हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है और लोग सड़कों पर उतर आए हैं। इन सभी के बीच यूपी सरकार के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का कहना है कि विपक्ष राजनीतिक प्रतिस्पर्धा के लिए इस घटना का इस्तेमाल कर रहा है।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में रविवार को कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के काफिले की गाड़ियों ने कथित तौर पर कुचल दिया था। इस घटना में कुछ लोगों की मौत और कई लोगों के घायल होने की खबर है। इस दौरान हुए हंगामें में 3 गाड़ियों में आग भी लगा दी गई थी।