लगता है उन्हें टाइम पर ऑक्सीजन मिल गई- दीपक चौरसिया ने दी CM योगी के बारे में जानकारी तो बॉलीवुड एक्टर ने मारा ताना

पत्रकार दीपक चौरसिया ने योगी आदित्यनाथ के कोविड नेगेटिव होने की खबर ट्विटर पर शेयर की। उनके ट्वीट पर बॉलीवुड एक्टर और मिर्जापुर फेम विजय वर्मा ने उनसे कहा कि जो लोग मर रहे हैं उनका भी…

vijay varma, covid 19, yogi adityanath

दिल्ली के बत्रा हॉस्पिटल में शनिवार को ऑक्सीजन की कमी से बारह कोविड संक्रमित मरीजों ने दम तोड़ दिया। लगभग यही हाल दिल्ली और देश के कई अस्पतालों का है। सरकारों के प्रयासों के बावजूद भी ऑक्सीजन, आईसीयू बेड्स, जरूरी दवाइयों की कमी से संक्रमित मरीज मर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में भी यही स्थिति है। जहां एक तरह योगी आदित्यनाथ सरकार यह दावा कर रही है कि राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं की कोई कमी नहीं है तो दूसरी तरफ़ जमीनी हकीकत एकदम उलट है। कुछ दिनों पहले योगी आदित्यनाथ भी कोरोना संक्रमित हुए थे, लेकिन अब उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है जिसके बाद पत्रकार दीपक चौरसिया ने यह खबर ट्विटर पर शेयर की। पत्रकार के ट्वीट पर बॉलीवुड एक्टर और मिर्जापुर फेम विजय वर्मा ने टिप्पणी की है।

दीपक चौरसिया ने योगी आदित्यनाथ के कोविड  निगेटिव होने की जानकारी देते हुए अपने ट्विटर पर लिखा, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दी कोरोना को मात, सीएम योगी की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।’ उनके इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए विजय वर्मा ने लिखा, ‘लगता है उनको टाइम पर ऑक्सीजन मिल गई। बाकियों का हाल भी पूछ लो जो मर रहे हैं।’

विजय वर्मा के इस ट्वीट पर यूजर्स भी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। साहब आलम नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘यह देखकर काफी अच्छा लग रहा है कि बॉलीवुड का युवा टैलेंट सरकार के खिलाफ बोल रहा है लेकिन जो कथित सुपरस्टार हैं उनमें हिम्मत नहीं कि सरकार के खिलाफ एक लाइन लिख दें या बोल दें।’

भारतीय नाम से एक ट्विटर यूजर ने विजय वर्मा को जवाब देते हुए लिखा, ‘जी मैं सुबह से कोशिश कर रहा हूं , लखनऊ में ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए..कोई सुनने वाला नहीं है यहां।’ शिशिर मेशाराम नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘आप एक बेहतरीन अभिनेता के साथ- साथ एक बेहतरीन इंसान भी हैं सर।’

बहरहाल, भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड के नए मामलों की बात करें तो एक दिन में अब तक के सर्वाधिक 4 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं। भारत अमेरिका और ब्राजील को पीछे छोड़ विश्व का प्रथम देश बन गया है जहां एक दिन में इतने मामले सामने आ रहे हैं।

देश में वैक्सीनेशन प्रोग्राम का तीसरा चरण भी वैक्सीन की कमी से सही से संचालित नहीं हो पा रहा। दिल्ली समेत कई राज्यों ने अपने नागरिकों को वैक्सीन के लिए फिलहाल अस्पतालों के बाहर जमा होने से मना किया है।