लग्जरी गाड़ियों में चलने वाले मुकेश अंबानी को पत्नी नीता की वजह से करना पड़ा था बस में सफर, दिलचस्प है वजह

मुकेश अंबानी को एक बार मर्सडीज कार होते हुए भी मुंबई में बस से सफर करना पड़ा था। इस बात का खुलासा खुद उनकी पत्नी नीता अंबानी ने अपने एक इंटरव्यू के दौरान किया था।

nita ambani, mukesh ambani

रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक और विश्व के टॉप 10 अरबपतियों में शामिल मुकेश अंबानी और उनका परिवार अकसर सुर्खियों में बना रहता है। मुकेश अंबानी अकसर अपने लग्जरी शौक के लिए खूब जाने जाते हैं। मुकेश अंबानी के पास हमेशा से ही महंगी लग्जरी गाड़ियां रही हैं। लेकिन एक वक्त ऐसा था, जब उन्हें मर्सडीज कार होते हुए भी मुंबई में बस से सफर करना पड़ा था। इस बात का खुलासा खुद उनकी पत्नी नीता अंबानी ने अपने एक इंटरव्यू के दौरान किया था।

नीता अंबानी ने अपने इंटरव्यू में बताया था कि कैसे उन्होंने डेटिंग के दौरान मुकेश अंबानी के सामने बस में सफर करने की शर्त रखी थी। खास बात तो यह है कि खुद मुकेश अंबानी भी तुरंत ही तैयार हो गए थे। नीता अंबानी ने बताया कि उस वक्त भी मुकेश अंबानी के पास मर्सडीज जैसी लगजरी गाड़ी थी।

नीता अंबानी ने इस बारे में बात करते हुए कहा, “जिन दिनों हम एक-दूसरे को डेट कर रहे थे, उस वक्त मुकेश के पास मर्सडीज कार हुआ करती थी। तो हम अकसर अपनी डेट पर उस कार में ही जाया करते थे। लेकिन एक दिन मैंने उनसे कहा कि आपको मेरे तरीके से सफर करना पड़ेगा, बेस्ट बस में।”

नीता अंबानी ने इंटरव्यू में आगे कहा, “मैंने मुकेश से कहा कि इसमें बेस्ट सीट डबल डेकर बस के टॉप की फ्रंट सीट है। उस वक्त मुकेश मेरे साथ आ गए। यह मेरा पसंदीदा रूट हुआ करता था, क्योंकि बस जुहू बीच से होकर जाया करती थी और आप उस सीट के जरिए समुद्र और बीच को बखूबी देख सकते थे।”

बता दें कि नीता अंबानी अपनी सादगी के लिए भी खूब जानी जाती हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उनसे पूछा गया कि देश के सबसे अमीर आदमी की पत्नी होना आपकी नजर में क्या है? और आप अभी भी अपनी पहचान को कैसे कायम रखती हैं?

इसके जवाब में नीता अंबानी ने कहा कि मैं खुश हूं कि मैं किसी भी तरह से मुकेश का सपोर्ट करने के काबिल हूं। मुझे लगता है कि मेरा काम ही मेरी पहचान है। मैं अपने आपको भारत के दूरदर्शी व्यक्ति के जीवन साथी के रूप में कहलाना पसंद करूंगी। बता दें कि नीता अंबानी ने शादी के बाद एक स्कूल में पढ़ाना भी शुरू कर दिया था। इस काम के लिए उन्हें 800 रुपए प्रतिमाह सैलरी दी जाती थी। इस काम में मुकेश अंबानी ने भी उनका खूब साथ दिया था।