लालू यादव की वजह से पूरी न हो सकी सदानंद बाबू की दिली तमन्ना? BJP के सुशील मोदी का दावा- इच्छा बहुत थी, पर RJD ने लगाया अड़ंगा

सुशील मोदी लालू परिवार पर लगातार हमलावर रहे हैं। तेजस्वी यादव के झारखंड दौरे को लेकर भी उन्होंने राजद पर हमला बोला है।

Sushil Modi, Lalu Yadav, Afghanistan, Bihar सुशील मोदी और लालू यादव। (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने एक बार फिर लालू प्रसाद पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया है कि लालू प्रसाद ने दिवंगत कांग्रेसी नेता सदानंद सिंह को लोकसभा नहीं पहुंचने दिया था। उन्होंने कहा कि सदानंद सिंह की इच्छा थी कि वो एक बार लोकसभा पुहंचे लेकिन राजद ने हर बार अड़ंगा लगा दिया।

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भागलपुर के कहलगांव में आयोजित पूर्व विधान सभा अध्यक्ष सदानन्द सिंह के श्राद्ध कार्यक्रम में कहा कि लालू प्रसाद और राजद की वजह से वो सांसद नहीं बन पाए उनकी इच्छा थी कि वो एक बार सांसद भी पहुंचे। मोदी ने कहा कि सदानंद सिंह से उनकी व्यक्तिगत रिश्ते थे। उनकी मदद हमें हमेशा मिलती रही। सभी दलों के लोग उनके प्रशंसक थे। अगर में भागलपुर का सांसद और उपमुख्यमंत्री बना तो इसमें कहीं न कहीं सदानंद बाबू का भी योगदान रहा था। मैं उनका असानमंद हूं। आठ बार विधानसभा चुनाव जीतना बड़ी बात है।

लालू प्रसाद पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद ने जब कांति सिंह और रघुनाथ झा को मंत्री बनवाने के लिए उनके मकान लिखवा लिये, कुली-चपरासी की नौकरी के बदले गरीबों की जमीन हासिल की, तब उनकी पार्टी में विधायक, सांसद, एमएलसी बनने का टिकट बेचना भ्रष्टाचार नहीं, शिष्टाचार बन चुका है। बताते चलें कि कांग्रेस के कद्दावर नेता सदानंद सिंह का हाल ही मे निधन हो गया था। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। उन्हें लीवर सिरोसिस की बीमारी थी।

गौरतलब है कि सुशील मोदी लालू परिवार पर लगातार हमलावर रहे हैं। तेजस्वी यादव के झारखंड दौरे को लेकर भी उन्होंने राजद पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट किया कि झारखंड के मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन ने 14 सितम्बर को भोजपुरी और मगही को गाली की भाषा बताकर बिहार का अपमान किया था। पांच दिन बाद उनसे मिलने पहुँचे तेजस्वी यादव ने सोरेन के बयान पर कोई विरोध तक नहीं जताया।