‘विराट कोहली की ताकत ही उनकी विफलता का कारण’, पूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने दिया बयान; देखें Video

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने मौजूदा इंग्लैंड दौरे पर भारतीय कप्तान विराट कोहली की परेशानियों पर अपनी राय दी है। पठान का मानना है कि विराट कोहली तकनीक नहीं बल्कि अपनी आक्रामकता के कारण लगातार विफल हो रहे हैं।

irfan-pathan-says-that-virat-kohli-aggression-is-the-reason-behind-his-failure-in-indvseng-series-on-aakash-chopra-youtube-show भारतीय कप्तान विराट कोहली की बैटिंग तकनीक से नहीं बल्कि उनके आक्रामक रवैये से खराब हुई है, ये मानना है भारत के पूर्व ऑलराउंडर का (Source: Twitter)

भारतीय कप्तान विराट कोहली लगातार खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। इंग्लैंड में मौजूदा टेस्ट सीरीज के दौरान भारतीय कप्तान को हर बार ऑफ स्टंप के बाहर की गेंद पर विकेट के पीछे आउट होते देखा गया। हर क्रिकेट एक्सपर्ट उनकी बल्लेबाजी की खामियां बता रहे हैं। लेकिन इसी बीच पूर्व भारतीय ऑलराउंडर इरफान पठान ने कोहली की आक्रामकता को उनकी विफलता का कारण बताया है।

भारत के पूर्व बल्लेबाज आकाश चोपड़ा के यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए इरफान पठान ने विराट कोहली की आक्रामकता को ही उनके विफल होने के पीछे का कारण बताया है। आकाश चोपड़ा के शो में अपनी राय रखते हुए पूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने ये बयान दिया।

उन्होंने कहा कि,’मुझे लगता है कि तैयारी से ज्यादा विराट कोहली सामने वाली टीम पर हावी होना चाहते हैं और डोमिनेट करना चाहते हैं, जिससे उन्हें ऑफ स्टंप के बाहर की गेंदें खेलने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। जिसके कारण तकनीक से ज्यादा विराट कोहली की आक्रामक सोच उन्हें परेशान कर रही है।’

गौरतलब है कि 2014 में भारत का इंग्लैंड दौरा विराट कोहली के लिए किसी बुरे सपने जैसा था। इस सीरीज में भी जेम्स एंडरसन सहित कई इंग्लिश गेंदबाजों ने कोहली को ऑफ स्टंप की लाइन पर खासा परेशान किया था। इसके बाद 2018 में 600 तकरीबन रन बनाने वाले विराट मौजूदा दौरे पर एक बार फिर ऑफ स्टंप की लाइन पर ही संघर्ष करते नजर आ रहे हैं। तीन टेस्ट मैचों की पांचों पारियों में भारतीय कप्तान हर बार विकेट के पीछे (विकेटकीपर या स्लिप में) कैच थमा कर आउट हुए हैं।

हाल ही में लीड्स टेस्ट में भारत को मिली शर्मनाक हार का एक अहम कारण भी यही था। इस पारी में भी कप्तान कोहली को पहली पारी में 7 रन पर जेम्स एंडरसन ने बटलर के हाथों कैच आउट करवाकर वापस पवेलियन भेजा था। वहीं दूसरी पारी में ओली रॉबिन्सन की एक ऑफ स्टम्प के बाहर की गेंद पर भारतीय कप्तान ने पहली स्लिप में खड़े जो रूट को कैच थमाकर 55 रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर अपना विकेट गंवाया।

भारत और इंग्लैंड के बीच जारी मौजूदा सीरीज फिलहाल 1-1 की बराबरी पर है। नॉटिंघम में पहला टेस्ट बारिश की भेंट चढ़ने के बाद लॉर्ड्स में विराट ब्रिगेड ने 151 रनों से ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। इसके बाद लीड्स में मेजबानों ने जोरदार वापसी की और मेहमानों को पारी और 76 रनों से मात देकर सीरीज बराबर कर ली।