विवादों में ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ की बबीता जी, उठी मुनमुन दत्ता की गिरफ्तारी की मांग; जानें क्या है मामला

Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah फेम मुनमुन दत्ता का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह कथित तौर पर एक जाति विशेष पर आपत्तिजनक टिप्पणी करती नजर आ रही हैं। इस वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर्स का गुस्सा फूट पड़ा है और मुनमुन की गिरफ़्तारी की मांग हो रही है।

taarak mehta ka ooltah chashmah, munmun dutta, babita ji

टेलीविजन के चर्चित सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ फेम एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता मुश्किल में फंस गई हैं। सीरियल में बबीता जी का किरदार निभाने वालीं दत्ता का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह कथित तौर पर एक जाति विशेष पर आपत्तिजनक टिप्पणी करती नजर आ रही हैं। इसी टिप्पणी को लेकर सोशल मीडिया पर तमाम यूजर्स अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।

ट्विटर पर #ArrestMunmunDutta ट्रेंड कर रहा है। वीडियो में मुनमुन दत्ता अपने मेकअप से जुड़ी बातें कर रही हैं और कह रही हैं कि वो यूट्यूब के जरिए लोगों से जुड़ने वाली हैं और इसी वजह से वो अच्छा दिखना चाहती हैं। इसी दौरान वो एक जाति विशेष पर टिप्प्णी करती हैं और कहती हैं कि वो उनकी तरह नहीं दिखना चाहतीं।

इस वीडियो को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर धड़ल्ले से शेयर किया जा रहा है और लोग गुस्से में मुनमुन दत्ता को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं। कुछ लोग शो के किरदार जेठालाल (जो बबीता जी को पसंद करता है) के मीम शेयर कर इस मामले पर तंज भी कस रहे हैं।

सतेंद्र शर्मा नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘ऐसी खराब सोच रखने वालों के प्रति हमारी सहानुभूति नहीं हो सकती। शर्म करो मुनमुन दत्ता।’ लक्ष्य नाम के एक यूजर ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और मुंबई पुलिस को टैग करते हुए लिखा, ‘यह बेहद ही शर्मनाक है। मुनमुन दत्ता यह आपके जातिवादी मानसिकता को दिखाता है। उन्हें एससी एसटी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’

दलित पैंथर नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘कोरोना एक वायरल है, जातिवाद एक महामारी। जो दिल में है वो जुबां पर है आपके मुनमुन दत्ता।’ डॉक्टर संगीता नाम की एक यूजर लिखती हैं, ‘इस तरह के लोग समाज के लिए सबसे ज्यादा खतरनाक हैं।’ शुभम लिखते हैं, ‘शर्म करो मुनमुन दत्ता, मुझे नहीं पता था तुम्हारे विचार इतने खराब हैं।’

रितेश नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘मुनमुन दत्ता आप जैसे सेलिब्रिटी समाज में जातिवाद का सामान्यीकरण करते हैं, इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ये संविधान के खिलाफ है और आपको एससी एसटी एक्ट के तहत तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’