शैली सिंह U-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में इतिहास रचने से एक कदम दूर, 17 साल की भारतीय एथलीट के पास है नीरज चोपड़ा की बराबरी का मौका

शैली सिंह ने शुक्रवार को नैरोबी में अंडर-20 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 6.40 मीटर के साथ क्वालिफिकेशन दौर में शीर्ष पर रहकर फाइनल में जगह बनाई। सत्रह साल की शैली को इस प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने का दावेदार माना जा रहा है।

Shaili Singh current U20 national record holder in long jump शैली सिंह ने शुक्रवार को नैरोबी में अंडर-20 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 6.40 मीटर के साथ क्वालिफिकेशन दौर में शीर्ष पर रहकर फाइनल में जगह बनाई। (सोर्स- ट्विटर/AFI)

लंबी कूद में भारत की उदीयमान एथलीट शैली सिंह अंडर-20 विश्व चैंपियनशिप में इतिहास रचने से सिर्फ एक कदम दूर हैं। उनके पास अंडर-20 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारत की तीसरी खिलाड़ी बनने का मौका है। भारत की ओर से विश्व अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में अब तक सिर्फ नीरज चोपड़ा और हिमा दास ही स्वर्ण पदक जीत पाए हैं। नीरज चोपड़ा ने 2106 में जैवलिन थ्रो और फर्राटा धावक हिमा दास ने 2018 में यह उपलब्धि अपने नाम की थी।

शैली ने शुक्रवार को अपेक्षानुरूप प्रदर्शन करते हुए नैरोबी में अंडर-20 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 6.40 मीटर के साथ क्वालिफिकेशन दौर में शीर्ष पर रहकर फाइनल में जगह बनाई। सत्रह साल की शैली को भारतीय एथलेटिक्स का भावी स्टार माना जाता है। उन्होंने महिलाओं की लंबी कूद के ग्रुप बी में अपनी तीसरी और अंतिम छलांग में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। उन्होंने दूसरी छलांग में 5.98 मीटर की दूरी तय की थी। शैली को स्वर्ण पदक का दावेदार माना जा रहा है। हालांकि, रविवार को होने वाला फाइनल काफी कड़ा होगा, क्योंकि उसमें दुनिया की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों ने जगह बनाई है।

स्वीडन की 18 साल की माजा असकाग ग्रुप ए में 6.39 मीटर के साथ शीर्ष और सभी प्रतिभागियों में दूसरे स्थान पर रहीं। उनके अलावा ब्राजील की लिसांद्रा मायसा कम्पोस (6.36 मीटर), जमैका की शांते फोरमैन (6.27 मीटर) और यूक्रेन की मारिया होरिलोवा (6.24 मीटर) भी पदक की दावेदार हैं।

लंबी कूद की प्रसिद्ध एथलीट अंजू बॉबी जार्ज के पति बॉबी जार्ज शैली सिंह के कोच हैं। बॉबी जार्ज को भी शैली के गोल्ड मेडल जीतने का भरोसा है। हालांकि, वह यह भी मानते हैं कि यह फाइनल वाले दिन उसके प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। बॉबी पिछले तीन साल से ज्यादा समय से शैली को प्रशिक्षण दे रहे हैं। उन्होंने शैली के प्रतियोगिता में उतरने से पहले कहा था, यह उसकी (शैली की) पहली अंतरराष्ट्रीय मीट है। मुझे उससे उसका पर्सनल बेस्ट चाहिए।

शैली इस साल अंडर-18 में वर्ल्ड नंबर 2, अंडर-20 भारतीय रिकॉर्ड धारक और महिला वर्ग में नेशनल चैंपियन हैं। शैली ने जून में 6.48 मीटर छलांग लगाकर राष्ट्रीय (सीनियर) अंतरराज्यीय चैंपियनशिप जीती थी। झांसी में जन्मी शैली को उनकी मां ने पाल पोसकर बड़ा किया। उनकी मां कपड़े सिलकर आजीविका चलाती है। शैली बेंगलुरु स्थित अंजू बॉबी जार्ज की अकादमी में प्रशिक्षण लेती हैं।

अंडर-20 विश्व एथलेटिक्श चैंपियनशिप अन्य स्पर्धाओं में नंदिनी अगसारा ने महिलाओं की 100 मीटर बाधा दौड़ के सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई किया। वह चौथी हीट में चौथे और कुल 21वें स्थान पर रहीं।

हालांकि, तेजस शिरसे (पुरुषों की 100 मीटर बाधा दौड़), पूजा (महिलाओं की 1500 मीटर दौड़) और षणमुगा श्रीनिवास (पुरुषों की 200 मीटर दौड़) सेमीफाइनल के लिये क्वालिफाई नहीं कर पाए।