सनी देओल से पहले गोविंदा को ऑफर हुई थी ‘गदर’ लेकिन ठुकरा दिया था रोल; खुद बताई वजह

गोविंदा को फिल्म ‘गदर’ ऑफर हुई थी। सबसे पहले इस फिल्म में काम करने के लिए गोविंदा से पूछा गया था। लेकिन गोविंदा को इस फिल्म में काफी ज्यादा वॉयलेंस लगा। गोविंदा का कहना है…

Govinda, Govinda Confession, Sunny Deol, Govinda Movies, 90s Superstar Govinda, Govinda Filmy Career,

90 के दशक के सुपरस्टार और ‘हीरो नं. 1’ कहे जाने वाले गोविंदा को एक से बढ़कर एक फिल्में ऑफर हो रही थीं। गोविंदा की डिमांड इतनी थी कि उन्हें हॉलीवुड की फिल्में भी ऑफर हुई थीं। उस वक्त गोविंदा अपने करियर में कॉमेडी जॉनर की ज्यादा फिल्मों पर फोकस कर रहे थे। इस जॉनर की फिल्मों से उन्हें सफलता भी खूब मिली। लेकिन धीरे धीरे गोविंदा के हाथों से कुछ वर्सटाइल फिल्में निकल गईं। उनमें से कई फिल्में थीं जो किसी और एक्टर के साथ बनीं और सुपरहिट साबित हुईं।

जब गोविंदा ने ठुकरा दी ‘गदर’: गोविंदा को फिल्म ‘गदर’ ऑफर हुई थी। सबसे पहले इस फिल्म में काम करने के लिए गोविंदा से पूछा गया था। लेकिन गोविंदा को इस फिल्म में काफी ज्यादा वॉयलेंस लगा। गोविंदा का कहना है कि उनकी मां ने उन्हें ऐसी फिल्में करने से मना किया था, जिसके बाद उन्होंने इस फिल्म को करने से इनकार कर दिया। ऐसे में ये फिल्म सनी देओल की झोली में आ गिरी। ये फिल्म सनी देओल के करियर की सबसे बेहतरीन फिल्म मानी जाती है।

अब इस बारे में गोविंदा ने कई सालों के बाद बताया कि उन्होंने इस फिल्म को कैसे और क्यों मना किया। साथ ही कुछ और फिल्मों का जिक्र भी किया कि उन फिल्मों के लिए किए गए इनकार के पीछे का क्या कारण था? इंडिया टीवी के शो आपकी अदालत में रजत शर्मा ने गोविंदा से पूछा था कि-ऐसी फिल्में थीं गोविंदा जिसमें आपको अवॉर्ड मिल सकता था जैसे कि ‘गदर’, जो बाद में सनी देओल ने की। लेकिन उस फिल्म के लिए आपने मना कर दिया था?

‘गदर’ की कदर न करने का ये था कारण

इस पर गोविंदा ने जवाब दिया- ‘अरे जिस वक्त अनिल शर्मा जी सुना रहे थे ये फिल्म मुझे उस वक्त उसमें इतनी सारी गालियां वालियां थीं, मैंने कहा यार मैं तो किसी आदमी से पंगा नहीं लेता। तुम याह इधर उधर किधर किधर, स्टेट देश कहां कहां क्या क्या कह दे रहे हो। मैंने कहा मेरी मम्मी ने फिक्स चीजें कही हुई हैं-गोविंद एक तुम्हारे पास दूसरा गोविंद नहीं है।’

उन्होंने आगे बताया- ‘जो हो तुम हो, जो तुम हार्ड वर्क करोगे ऐसा कोई भी रिस्क मत लो किसी भी चीज का, ऐसा लगे कि है तो भैया ये स्टार, लेकिन अपने मयार से आगे निकल कर ये सब कर रहा है। या फिर ये लगे कि तुम मुस्कुराते रहो, डांस और गाना करते रहो। लगेगा कि गोविंदा है। इसलिए मैंने वो पिक्चर नहीं की, बहुत गालियां थीं उसमें। मैं डिसकस भी नहीं कर सकता हूं यहां पर।’

यशराज की फिल्म करने से भी कर दिया था इनकार

ऐसे में गोविंदा से पूछा गया था कि यशराज की चांदनी, वो भी मम्मी ने मना किया था? इस सवाल पर हंसते हुए गोविंदा ने कहा था- वो मैंने मना किया था। चांदनी में जो किरदार था वो अपाहिज हो जाता है। तो मैंने कहा गोविंदा… ये क्या। मैंने कहा नहीं चलेगी सर। मुझे लगता है कि गाने इसके सुपरहिट है जिस वजह से फिल्म चली। इसके अलावा गोविंदा ने संजय लीला भंसाली की देवदास, सुभाष घई की ताल और हॉलीवुड फिल्म अवतार को भी ना कह दिया था। हालांकि इस शो पर गोविंदा ने कहा था कि उस वक्त वह हवा में थे।