सपा नेता और यूपी पुलिस के कर्मियों के बीच हुई धक्का मुक्की, BJP का वार- जितना बड़ा झंडा, उसके पीछे छिपा उतना ही बड़ा सपाई गुंडा

सामने आए वीडियो में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों के बार-बार रोकने के बाद भी नहीं रुक रहे हैं और धक्का-मुक्की कर रहे हैं।

scuffle between SP leader and UP Police personnel सपा कार्यकर्ताओं ने डिप्टी एसपी से की बदसलूकी (सोर्स- ट्विटर)

चंदौली में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन की खबरों के बीच, समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने रविवार को जमकर बवाल काटा। समाजवादी पार्टी के नेता मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने के लिए निकले तो सीएम के कार्यक्रम स्थल के पहले ही पुलिसकर्मियों ने उनको रोकने की कोशिश की, जिसके बाद सपा नेताओं और पुलिसकर्मियों के बीच भिड़त हो गई। जनसभा स्थल पर पहुंचने से पहले पुलिस से सपा नेताओं की भिड़ंत हो गई। सपा कार्यकर्ताओं पर इस दौरान डिप्टी एसपी की पिटाई करने का आरोप लगा है, जिसको लेकर भाजपा ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा है।

उत्तर प्रदेश भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा गया। इस ट्वीट में भाजपा ने कहा, ”सपा के मुखिया बदजुबानी करते हैं। उनके कार्यकर्ता पुलिस पर हाथ उठाते हैं और उस कहावत को चरितार्थ करते हैं कि ‘जितना बड़ा झंडा, उसके पीछे छिपा उतना ही बड़ा सपाई गुंडा’।”

वहीं, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस भिड़त का वीडियो शेयर करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। अनुराग ठाकुर ने ट्वीट कर कहा, ” अखिलेश यादव यूपी की जनता से कहते नहीं थक रहे: आ रहा हूं, क्या यूपी में यही गुंडाराज, माफियाराज लाने के आप आना चाहते हैं? स्थान :चंदौली, घटना : डिप्टी एसपी को पीटते सपाई, पिटाई के पर्यायवाची हैं सपाई।”

सामने आए वीडियो में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों के बार-बार रोकने के बाद भी नहीं रुक रहे हैं और धक्का-मुक्की कर रहे हैं। पार्टी का झंडा लिए बड़ी संख्या में जमा हुए सपा कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों से धक्का-मुक्की कर रहे हैं और नारेबाजी कर रहे हैं। बाद में पुलिस को उन्हें नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा।

इस पर भाजपा नेता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि समाजवादी पार्टी के लिए ये करो या मरो की स्थिति है। सपा बौखलाहट में है और ऐसे कई वीडियो वायरल हो रहे हैं आए दिन, जब सपा नेताओं की गुंडई सामने आई है।

वहीं, सपा के एक नेता ने पार्टी कार्यकर्ताओं का बचाव करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता बेहद अनुशासित हैं और ऐसी हरकत नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि क्या परिस्थिति रही होगी, उन्होंने वीडियो देखा नहीं है। साथ ही सपा नेता ने कहा कि सबसे बड़ी गुंडा पुलिस है और पुलिस आम आदमी को जीने नहीं दे रही है।